class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

..तो अनायास नहीं थी भागलपुर में भागवत-जोशी की भेंट

..तो अनायास नहीं थी भागलपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यक्रम में सरसंघ चालक मोहन भागवत और बनारस के नवनिर्वाचित सांसद डा. मुरली मनोहर जोशी की मुलाकात! शीर्षस्तर पर भाजपा में चल रहे संघर्ष की पृष्ठभूमि में बिहार की यह घटना महत्व रखती है। ऐसे समय में जबकि पार्टी में नेतृत्व परिवर्तन के मुद्दे पर माहौल गरम है और जहां सभी बड़े नेता संघ की शरण में जा रहे हों, भागवत का डा. जोशी के यहां जाने का मतलब तो है।

पिछले 29 मई को भागलपुर में संघ शिक्षा वर्ग में जब पूर्व केन्द्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता डा. जोशी  भागवत के बुलावे पर पहुंचे थे, तब भी कई तरह की चर्चाएं चली थीं। यह वही समय था, जब लोकसभा चुनाव में पार्टी के निराशाजनक प्रदर्शन से नेता हताश थे और दिल्ली में 31 मई को संसदीय दल की बैठक बलाई गई थी। इससे ठीक पहले डा. जोशी को खास तौर से बिहार बुलाए जाने के निहितार्थ तलाशे जा रहे थे। इसी वर्ष 21 मार्च को सरसंघ चालक का दायित्व संभालने के बाद भागवत का यह पहला बिहार दौरा था।

भाजपा में संघ से मधुर रिश्ते के लिए जाने जाने वाले डा. जोशी पूरे एक दिन संघ शिक्षा वर्ग के विशेष कार्यक्रम में भागवत के साथ रहे थे। तभी पार्टी के दायरे में यह बात तैर रही थी, कि जोशी को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी जा सकती है और अब लालकृष्ण आडवाणी की जगह जोशी को लोकसभा में विपक्ष का नेता बनाने की बात छन कर आ रही है। गौरतलब है कि चुनाव घोषणा पत्र में हिन्दुत्व से जुड़े कुछ एजेंडे जुड़वाने में डा. जोशी की प्रमुख भूमिका रही थी।

यह किसी से छिपा नहीं है कि लोकसभा चुनाव में कई राज्यों में भाजपा के निराशाजनक प्रदर्शन को लेकर आएसएस की भृकुटि तनी थी। वह चुनाव के दौरान भाजपा के उदारवादी चेहरे को अधिक पेश किए जाने से भी खुश नहीं था। उस समय संघ का यह कार्यक्रम (शिक्षा वर्ग) हर राज्य में एक महीने तक के लिए चलाया जा रहा था और तभी इसके भी संकेत मिल रहे थे कि इस कार्यक्रम के बाद संघ अपने राजनीतिक विंग भाजपा को केन्द्र में रखकर कुछ महत्वपूर्ण निर्णय ले सकता है। संभव है कि भाजपा की उदारवादी छवि पेश करने वाले नेताओं की नकेल कसी जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:..तो अनायास नहीं थी भागलपुर में भागवत-जोशी की भेंट