DA Image
31 मार्च, 2020|11:43|IST

अगली स्टोरी

श्रीलंका ने सीरीज व विटोरी ने दिल जीता

श्रीलंका ने सीरीज व विटोरी ने दिल जीता

डेनियल विटोरी की लाजवाब शतकीय पारी भी श्रीलंका को दूसरे टेस्ट में रविवार को न्यूजीलैंड पर 96 रन की जीत और सीरीज में 2-0 से क्लीन स्वीप करके आईसीसी रैंकिंग में दक्षिण अफ्रीका के बाद दूसरे नंबर पर आने से नहीं रोक पाई।

बाएं हाथ के स्पिनर रंगना हेराथ ने पांच विकेट लिए जिससे रिकार्ड 494 रन के लक्ष्य का पीछा कर रही न्यूजीलैंड की टीम रविवार को मैच के पांचवें और अंतिम दिन चाय के विश्राम से कुछ पहले 397 रन पर आउट हो गई। श्रीलंका ने यह जीत विटोरी की बेहतरीन बल्लेबाजी और लंच के दौरान आई भारी बारिश से पार पाकर दर्ज की जिसके कारण दूसरे सत्र का खेल 35 मिनट की देरी से शुरू हुआ। श्रीलंका ने गाले में खेला गया पहला टेस्ट मैच 202 रन से जीता।

विटोरी ने 140 रन बनाए जो टेस्ट क्रिकेट में उनका चौथा शतक है। न्यूजीलैंड का शीर्ष क्रम फिर से असफल रहा लेकिन बाएं हाथ के बल्लेबाज विटोरी की अगुआई में उनके निचले क्रम ने अच्छा संघर्ष किया और श्रीलंका को आसानी से जीत दर्ज नहीं करने दी।

विटोरी ने अंतिम बल्लेबाज के रूप में आउट होने से पहले चार घंटे से अधिक समय तक बल्लेबाजी की और अपनी पारी में 16 चौके लगाए। उन्होंने इस सीरीज में 272 रन बनाए और दस विकेट लिए और इस दौरान वह 300 विकेट और 3000 रन का डबल बनाने वाले दुनिया के आठवें क्रिकेटर भी बने।

विटोरी ने जैकब ओरम (56) के साथ सातवें विकेट के लिए 124 रन और इयान ओ ब्रायन के साथ नौवें विकेट के लिए 69 रन की साझेदारियां की। ओ ब्रायन ने केवल 12 रन बनाए लेकिन उन्होंने एक घंटे 18 मिनट तक अपने कप्तान का साथ दिया।
श्रीलंका टेस्ट रैंकिंग में अभी तक भारत के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर था और उसे अकेले दूसरे स्थान पर काबिज होने के लिए क्लीन स्वीप की दरकार थी। भारत अब तीसरे नंबर पर खिसक गया है जबकि एशेज हारने वाला आस्ट्रेलिया चौथे स्थान पर है।

कुमार संगकारा की कप्तान के रूप में पांच मैच में यह चौथी जीत है। उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ घरेलू सीरीज से महेला जयवर्धने से कप्तानी का दायित्व संभाला था। जयवर्धने ने पांचवें दिन की शुरुआत छह विकेट पर 182 रन से की और उसे सुबह के सत्र में केवल एक विकेट गंवाया तथा लंच तक उसका स्कोर सात विकेट पर 302 रन था। ओरम को लंच से कुछ देर पहले कामचलाऊ स्पिनर तिलकरत्ने दिलशान ने आउट किया। उन्होंने ड्राइव करने की कोशिश में कवर पर श्रीलंकाई कप्तान कुमार संगकारा को कैच थमाया।

विटोरी और ओरम तेज गेंदबाज धम्मिका प्रसाद के खतरनाक स्पैल से पार पाने में सफल रहे। यदि भाग्य ने इस गेंदबाज का साथ दिया होता तो वह चार गेंद के अंदर इन दोनों बल्लेबाजों को आउट कर देते। विटोरी तब 32 रन पर थे तब उन्होंने प्रसाद की गेंद पर स्लिप में कैच दिया था लेकिन किसी भी क्षेत्ररक्षक ने उसे लेने की कोशिश नहीं की। प्रसाद के इस ओवर की अंतिम गेंद ओरम के पैड पर लगी लेकिन अंपायर डेरल हार्पर ने अपील ठुकरा दी जबकि रीप्ले से लग रहा था कि गेंद सीधे विकेट पर जा रही थी।

श्रीलंका को शुरू में तब झटका लगा जब स्टार स्पिनर मुथैया मुरलीधरन घुटने के नीचे की नस खिंच जाने के कारण अपने 21वें ओवर की केवल तीन गेंद कर पाए। तिलन तुषारा ने यह ओवर पूरा किया। टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले मुरलीधरन हालांकि लंच के बाद मैदान पर उतरे और उन्होंने जीतन पटेल (12) को शार्ट लेग पर कैच करवाने के बाद विटोरी की संघर्षपूर्ण पारी का अंत करके श्रीलंका को जीत दिलाई।

दोनों पारियों में नर्वस नाइंटीज का शिकार बनने वाले पूर्व श्रीलंकाई कप्तान महेला जयवर्धने को मैन ऑफ द मैच जबकि बेहतरीन फार्म में चल रहे मध्यक्रम के बल्लेबाज तिलन तुषारा को मैन ऑफ द सीरीज चुना गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:श्रीलंका ने सीरीज व विटोरी ने दिल जीता