DA Image
29 जनवरी, 2020|5:07|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिश्वतखोरों की जगह जेल: मायावती

उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती ने भ्रष्टाचार निरोधक एजेन्सियों से रिश्वतखोरों के खिलाफ अभियान चलाकर उन्हें जेल भेजने का निर्देश देते हुए राज्य पुलिस की सभी इकाइयों से आपस में बेहतर तालमेल बनाकर काम करने की अपील की है।
 
मायावती ने शनिवार को पी.ए.सी., ए.टी.एस., एस.टी.एफ. अभियोजना, अभिसूचना फायर सर्विस और यातायात समेत पुलिस की अन्य सभी इकाइयों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। साढ़े चार घन्टे से अधिक समय तक चली बैठक में मुख्यमंत्री ने भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसियों को रिश्वतखोरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करके उन्हें जेल भेजने के निर्देश दिए।
 

उन्होंने कहा कि सत्ता में आते ही कई बार बैठकें करके उन्होंने कानून व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों को स्पष्ट रुप से बता दिया था कि कानून व्यवस्था के मुद्दे पर उनकी सरकार कोई ढिलाई बर्दाश्त नहीं करेगी। अधिकारियों को बहानेबाजी छोड़कर काम करके दिखाना होगा।
 
मायावती ने कहा कि कानून व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त बनाए रखने की जिम्मेदारी अकेले जिला रेन्ज जोन और फील्ड के छोटे-बड़े अधिकारियों की ही नहीं बनती है बल्कि पी.ए.सी. ए.टी.एस, एस.टी.एफ, अभियोजन, अभिसूचना, अग्निशमन सेवा तथा यातायात से जुड़े शीर्ष पुलिस अधिकारियों को मिलाकर जिम्मेदारी बनती है और इनका आपस में सही समन्वय बहुत जरुरी है। जिसमें काफी सुधार किए जाने की जरुरत है।
 
उन्होंने कहा कि इन शीर्ष इकाइयों के मुखिया फील्ड, रेंज तथा जोन में लम्बे समय तक रहकर इस उंचे मुकाम तक पहुंचे हैं। उनके लम्बे अनुभव का लाभ फील्ड में कानून व्यवस्था को और बेहतर बनाने के लिए मिलना चाहिए और इसके लिए आपस में भी अच्छा समन्वय होना चाहिए। उन्होंने कहा कि शीर्ष इकाइयों के वरिष्ठ अधिकारी अपनी इकाइयों का कार्य तो देख ही रहे हैं। इसके साथ ही उन्हें फील्ड अधिकारियों से सहयोग करके कानूनव्यवस्था को चुस्त दुरुस्त बनाने में सहयोग करना चाहिए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:रिश्वतखोरों की जगह जेल: मायावती