DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिलाओं का आईटीआई में रुझान घटा, सीटें खाली

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) की विभिन्न ट्रेड़ों की सीटों को लेकर हुए दाखिले में चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। इस बार महिलाओं ने दाखिले में रूचि नहीं दिखाई। इसके चलते कुछ ट्रेड को छोड़कर ज्यादातर ट्रेडों में महिलाओं की सीटें खाली रह गई।

आईटीआई में पहले चरण की दाखिला प्रक्रिया में 673 में से 402 सीटों पर ही दाखिले हुए। इनमें मात्र 28 महिलाओं ने दाखिला लिया। जबकि 30 फीसदी सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित हैं। इन खाली सीटों को लेकर अब  31 अगस्त से दूसरे चरण के दाखिले की प्रक्रिया शुरु की जाएगी। इसके बाद भी अगर महिलाओं की सीटें खाली रह जाती हैं तो इनके स्थान पर 14 सितबंर को लड़कों को चांस दिया जाएगा। 

दाखिले के दूसरे चरण की जानकारी जुटाने के लिए युवाओं की भीड़ आईटीआई पहुंचनी शुरु हो गई है। फरीदाबाद आईटीआई में 22 ट्रेडों में दाखिले किए जाने है। अभी तक महिलाओं ने नेशनल और स्टेट सर्टिफिकेट ऑफ वॉकेशनल ट्रेनिंग के तहत चल रहे 22 ट्रेडों में से केवल पांच ट्रेडों में दाखिला लिया है। जबकि 18 ट्रेड में महिलाओं की सभी सीटें खाली रह गई। इन कोर्सों की ओर महिलाएं रुख नहीं कर रही हैं। महिलाओं की इस बेरुखी से संस्थान के शिक्षाविद् भी हैरान हैं।

आईटीआई फरीदाबाद के प्रिंसीपल अजीत सिंह ने बताया कि ड्राफ्टमैन मैकेनिकल और ड्राफ्टमैन सिविल कोर्स में महिलाओं का रुझान देखने को मिला है। लेकिन यह आकड़ा भी उम्मीद के मुताबिक कम है। ड्राफ्टमैन मैकेनिकल में महिलाओं के लिए निर्धारित 5 सीटों पर 4 और ड्राफ्टमैन सिविल में पांच सीटों पर दो महिलाओं ने दाखिला लिया है।

इसके अलावा इलेक्ट्रीकल फॉर गर्ल्र्स में कुल 21 सीटों में मात्र 9 सीट महिलाओं से भरी है। मशीनिस्ट ग्राइंडर, डीजल मैकेनिक, मोटर मैकेनिक, स्टेनो इंग्लिश, स्टेनो हिंदी, वेल्डर, कार पेंटर, कटिंग, कप्यूटर ऑपरेटर प्रोग्राम असिस्टेंट जसे विभिन्न ट्रेडों में महिलाओं की सभी सीटे खाली हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महिलाओं का आईटीआई में रुझान घटा, सीटें खाली