DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकारी स्तर पर धान खरीद की तैयारियां शुरू

खरीफ सीजन की मुख्य फसल धान की खरीद की तैयारियां सरकारी स्तर पर शुरू हो गई है। लेकिन सूखे की मार को देखते हुए खरीद केंद्रों की संख्या बढ़ने के आसार नहीं के बराबर है। खरीद भी लक्ष्य से कम ही रहने के आसार है।

शुगल बाउल कहे जने वाले वेस्ट यूपी में धान की खेती का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। पिछले साल गाजियाबाद में धान की रिकार्ड बुआई हुई थी। मगर इस साल सूखे की मार के कारण धान बहुत कम बोया गया। इसमें से भी काफी धान पानी की कमी के कारण सूख गया और कुछ में बीमारियां लग गई। जिले में इस साल 21693 हेक्टेयर में धान बोया गया है। धान पर बालियां आनी शुरू हो गई है।

इसको देखते हुए सरकारी स्तर पर धान खरीद की तैयारी शुरू हो गई है। वरिष्ठ विपणन निरीक्षक हरिमोहन सिंघल ने बताया कि सूखा पड़ने के कारण धान का उत्पादन कम होने की आशंका है। ऐसे में क्रय केंद्रों की संख्या भी नहीं बढ़ पाएगी। जिले में पिछली साल की तर्ज पर छह क्रय केंद्र खोले जाने की संभावना है।

यह क्रय केंद्र पीसीएफ, एग्रो और मार्किटिंग विभाग के होंगे। इन केंद्रों पर पिछले वर्ष 289 मीट्रिक टन धान खरीदा गया था। अबकी बार इस लक्ष्य तक भी पहुंचने की संभावना नहीं है। उन्होंने बताया कि जल्दी ही खरीद नीति को अंतिम रूप दे दिया जाएगा और क्रय केंद्रों पर कांटें लग जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सरकारी स्तर पर धान खरीद की तैयारियां शुरू