DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिछले चुनाव में 67 फीसदी महिलाएं पराजित

राजनीति में महिलाआें को आगे लाने के तमाम प्रयासों के बावजूद एक दुखद पहलू है कि पिछले आम चुनाव में 67 दशमलव 32 प्रतिशत महिला उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई। हालांकि इन हालात में आशा की किरण की तरह है ममता बनर्जी जो छह बार इस पद पर चुनी गई हैं और मेनका गांधी जो पांच बार सांसद रह चुकी हैं। चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2004 के आम चुनाव में देशभर से 355 महिलाएं चुनावी समर में कूदी, जिनमें 117 निर्दलीय थीं। इनमें से सिर्फ 45 जीत पाईं और 23ो हार का मुंह देखना पड़ा। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी देश की एक मात्र ऐसी महिला सांसद हैं जो नौवीं लोकसभा को छोड़कर आठवीं लोकसभा से पिछली लोकसभा (चौदहवीं) तक लगातार विजयश्री दर्ज कर चुकी हैं। दूसरा नंबर भारतीय जनता पार्टी. भाजपा. की श्रीमती मेनका गांधी का है। वह पांच बार सांसद रह चुकी हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पिछले चुनाव में 67 फीसदी महिलाएं पराजित