DA Image
26 जनवरी, 2020|7:55|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घेरे में हाफ़िज सईद

जमात-उद-दावा के प्रमुख और लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद के खिलाफ इंटरपोल का रेड कॉर्नर नोटिस(आरसीएन) जारी होने के बाद सैद्धांतिक तौर पर यह माना जा सकता है कि दुनिया की नजर में उसे मुंबई हमले का आरोपी मान लिया गया है। लेकिन व्यावहारिक तौर पर वह पकड़ा जाएगा और उस पर मुंबई मामले में मुकदमा चलेगा यह नहीं कहा जा सकता। भारत उसे घेरने और सजा दिलाने में लगा है और पाकिस्तान बचाने में। इसीलिए आरसीएन के बाद भारतीय विदेशमंत्री एस. एम. कृष्णा ने कह दिया कि हमें जितना करना था हमने कर दिया, अब इस मामले को दुनिया को देखना है। दूसरी तरफ पाकिस्तान के गृहमंत्री रहमान मलिक ने यह कह कर कि इंटरपोल का वारंट तामील करने के लिए पाकिस्तान बाध्य नहीं है, असहयोग का इरादा जता दिया है। इंटरपोल के नोटिस में और भी कई झोल हैं, जिसे सुनकर नोटिस का आवेदन करने वाली संस्था सीबीआई भी हैरान है। दरअसल इंटरपोल ने अपने नोटिस में उसका नाम हाफिज सईद की जगह ‘सैयद हाफिज साब’ लिखा है। यह वही नाम है जिसका जिक्र मुंबई में पकड़ गए आतंकी कसाब ने अपने बयान में किया है। नोटिस में न तो सईद का विधिवत पता है, न ही फोटो। सिर्फ उसकी पाकिस्तानी नागरिकता और जन्मतिथि का जिक्र है। हाफिज सईद का संयुक्त राष्ट्र की अलकायदा और तालिबान पर प्रतिबंध लगाने वाली 1267 वीं समिति में भी जिक्र है, लेकिन आरसीएन में वह संदर्भ भी नहीं है। इससे यह भी संदेह होता है कि क्या इंटरपोल ने यह नोटिस दिखावे के लिए जारी किया है या इसमें सचमुच कोई गंभीरता है? क्योंकि पाकिस्तान सबूतों के अभाव का अक्सर जिक्र करता रहता है और इसी बिना पर हाफिज सईद पाकिस्तानी अदालत से रिहा किया ज चुका है और सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई मुल्तवी कर रखी है। भारत के नए दस्तावेज पर भी पाक का बयान उत्साह बढ़ाने वाला नहीं है। आरसीएन में लश्कर-ए-तैयबा के ऑपरेशन कमांडर जकीउर रहमान लखवी का नाम साफ तौर पर है और वह पहले से पाकिस्तान की जेल में है। लेकिन इस नोटिस के आधार पर उसे भारत को सौंपे जने की अभी कम ही उम्मीद है। फिर भी मिस्र के शर्म-अल-शेख में दिए गए साझा बयान के बाद और अगले महीने संयुक्त राष्ट्र की बैठक के आसपास होने वाली दोनों देशों के सचिवों की वार्ता के पहले किसी पहल की उम्मीद बनी हुई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:घेरे में हाफ़िज सईद