DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टैमीफ्लू की ब्रिकी पर नहीं हुआ फैसला

टैमीफ्लू की ब्रिकी पर नहीं हुआ फैसला

सरकार ने शुक्रवार शाम कहा कि उसने स्वाइन फ्लू एच1 एन1 से प्रभावित मरीजों के इलाज के लिए उपलब्ध एकमात्र दवा ओसेल्टामिविर यानी टैमीफ्लू की खुदरा बिक्री के बारे में अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है।

आधिकारिक सूत्रों ने शुक्रवार शाम यह जानकारी देते हुए बताया कि स्वाइन फ्लू एच1 एन1 से ग्रस्त मरीजों के इलाज के लिए उपलब्ध एकमात्र दवा ओसेल्टामिविर की खुदरा बिक्री के बारे में अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है।

सीआईआई लाइफ लाइन्स कानक्लेव में भारतीय दवा महानियंत्रक सुरिन्दर सिंह ने बताया कि दवा की दुकानों के जरिए ओसेल्टामिविर की बिक्री के संबंध में अधिसूचना अगले 10-12 दिनों में जारी किए जाने की संभावना है। अभी तक रेनबैक्सी, सिप्ला, मेटको, हेटरो, स्ट्राइडस और रोशे को इस दवा के विनिर्माण एवं वितरण का लाइसेंस दिया गया है।

ओसेल्टामिविर रोशे की दवा टैमीफ्लू का जेनेरिक वर्जन है और इस दवा को खुदरा बाजार में अनुसूची 10 के नियमों के तहत बेचा जाएगा जिसमें नशीले पदार्थों का इस्तेमाल कर बनी दवाओं की बिक्री की अनुमति है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टैमीफ्लू की ब्रिकी पर नहीं हुआ फैसला