DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आम आदमी के घर की जरुरत को पूरा करेगा : फाल्कन

मंदी की गाज रियल एस्टेट के व्यवसाय पर बहुत ज्यादा ही पड़ी। इसीलिए रियल एस्टेट कंपनियां  ’सस्ते घरों’ का मंत्रजाप कर रही हैं। आम आदमियों को भी कुछ उम्मीद जगने लगी है।

किराये की दरों की बात करें तो वे भी पिछले कुछ सालों से तेजी से बढ़ रही हैं। पिछले साल दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र समेत बड़े शहरों में  किरायों में 30 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है। लोगों ने अपनी गाढ़ी कमाई का एक चौथाई हिस्सा अपने किराए में ही लगाया। उद्योग जगत के सूत्रों के मुताबिक एक ओर जायदाद की बढ़ती कीमतें तो दूसरी ओर घर खरीदने वालों की कमी के चलते दिल्ली में मकानों के किराये में बढ़ोत्तरी हुई।

लेकिन अब रियल एस्टेट से जुड़ी  कंपनियां आम आदमी की आवश्यकता के अनुसार परियोजनाएं शुरु कर रही हैं। नौकरीपेशा दम्पति तथा अकेले रहने वालों को मकानों की ऊँची कीमतों और बढ़ते किरायों की मार से राहत दिलाने के लिए फाल्कन रियलटी सर्विसिज़ प्राइवेट लिमिटेड ने अपने किस्म का अनूठा हाउसिंग प्रॉजैक्ट लाँच किया है। गुलमोहर वुडस् नामक इस परियोजना में प्लैटों की कीमत  5.5 लाख से  शुरु हो जाती है। गुलमोहर वुडस् 300 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली ग्लोबल ईको-सिटी का एक हिस्सा है। ग्लोबल ईको-सिटी एक ग्रीन टाउनशिप प्रॉजैक्ट है जो कि दिल्ली-एनसीआर में राष्ट्रीय राजमार्ग-8 पर बनाया जा रहा है।

प्रॉजैक्ट की खास बात यह है कि यह कामकाजी जोड़ों को ध्यान में रख कर तैयार किया गया है जो अपना खुद का घर चाहते हैं। गुलमोहर वुडस् में ईको-फ्रैंडली शटल बस सेवा भी उपलब्ध कराई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आम आदमी के घर की जरुरत को पूरा करेगा : फाल्कन