DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विदेश व्यापार नीति की मुख्य बातें

विदेश व्यापार नीति की मुख्य बातें

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री आनंद शर्मा ने अगले पांच वर्ष 2009-2014 के लिए विदेश व्यापार नीति की घोषणा की।

इसकी मुख्य बातें:-

मार्च, 2011 तक 200 अरब डॉलर का निर्यात लक्ष्य।

वर्ष, 2014 तक वस्तुओं और सेवाओं के निर्यात को दोगुना करना।

2020 तक दीर्घकालीन नीति लक्ष्य के तहत विश्व व्यापार में देश के हिस्से को दुगना करना।

डीईपीबी योजना अगले वर्ष दिसम्बर तक जारी रहेगी।

केन्द्रित बाजार योजना के तहत 26 नए बाजार शामिल। इसमें लातिन अमरीका के 16 और एशिया-ओशनिया के 10 बाजार शामिल।

जयपुर, श्रीनगर और अनंतनाग को हस्तशिल्प निर्यात उत्कृष्टता कस्बों के रुप में मान्यता।

कानपुर, देवास और अम्बूर को चमड़ा उत्पादों के निर्यात उत्कृष्टता कस्बों के रुप में मान्यता।

मलीहाबाद को बागवानी उत्पादों के कस्बों के रुप में मान्यता।

स्वर्ण आभूषणों के निर्यात शुल्क पर वापसी की अनुमति।

देश को हीरे का अंतरराष्ट्रीय केन्द्र बनाने की दिशा में हीरा बोर्स स्थापित किया जाएगा।

नष्ट होने वाले कृषि उत्पाद के निर्यात को सुगम बनाने के लिए एकल खिड़की प्रणाली।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विदेश व्यापार नीति की मुख्य बातें