DA Image
25 फरवरी, 2020|6:18|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरबजीत के वकील जरदारी को सोपेंगे एक लाख हस्ताक्षरों वाली क्षमा याचिका

सरबजीत के वकील जरदारी को सोपेंगे एक लाख हस्ताक्षरों वाली क्षमा याचिका

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय कैदी सरबजीत सिंह को क्षमादान दिए जाने के लिए पाक राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को एक लाख भारतीयों के हस्ताक्षर वाली याचिका सौंपी जाएगी। याचिका पर हस्ताक्षर करने वाले भारतीयों में पूर्व टेस्ट क्रिकेटर और पूर्व प्रधान न्यायाधीश भी शामिल हैं।

सरबजीत के वकील ओवस शेख ने बताया कि हाल ही में भारत का दौरा कर जब वह पाकिस्तान लौटे तो अपने साथ एक लाख से अधिक भारतीयों के दस्तखत वाली क्षमादान याचिका लेकर आए थे।

शेख ने लाहौर में एक संवाददाता सम्मेलन में बताया याचिका पर हस्तारक्षर करने वालों में पूर्व टेस्ट क्रिकेटर कपिल देव, दिल्ली की जमा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी, अजमेर शरीफ दरगाह के सैयद अमीन हाशमी, दो पूर्व प्रधान न्यायाधीश आरएस मोंगिया और राजेंद्र सच्चर, भारतीय मानवाधिकार समूह, ईसाई और मुस्लिम इकाइयां डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, किसान तथा विद्यार्थी शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि वह यह याचिका राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को सौंपेंगे और उन्हें इस बारे में भारतीयों की भावनाओं से भी अवगत कराएंगे।

वकील ने कहा क्योंकि सरबजीत लंबे समय से जेल में है कानून के तहत उसकी सजा को घ्‍ाटाकर उम्रकैद में तब्दील किया जा सकता है। सरबजीत की सजा घ्‍ाटाए जाने से भारत और पाकिस्तान के बीच संबंधों को सुधारने में मदद मिलेगी।

सरबजीत 1990 में पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में हुए चार बम विस्फोटों में कथित संलिप्तता में दोषी ठहराए जाने के समय से ही मौत के साए में जी रहा है। विस्फोटों में 14 लोग मारे गए थे। उसके परिवार का कहना है कि सरबजीत को विस्फोटों में गलती से दोषी ठहराया गया।

सरबजीत को पिछले साल एक अप्रैल को फांसी दी जानी थी, लेकिन पाक राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के हस्तक्षेप के बाद उसकी फांसी की सजा अनिश्चितकाल के लिए टाल दी गई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:'जरदारी को सौंपेंगे एक लाख हस्ताक्षरों वाली क्षमा याचिका'