DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो नक्सलियों को फांसी की सजा

हत्या के मामले में अपर जिला एवं मुख्य न्यायाधीश (एफटीसी तृतीय) एसके राय की कोर्ट ने बुधवार को दो माओवादियों कृष्णा गंझू और रामदेव महतो को फांसी की सजा सुनाई। कृष्णा गंझू सिमरिया प्रखंड के लुटू गांव और रामदेव महतो सोहवान का रहनेवाला है। आरोपियों ने 24 नवंबर 1998 में सिमरिया थाना क्षेत्र के आतमपुर गांव में पुलिस पेट्रोलिंग गाड़ी पर धावा बोलकर तीन जवानों की हत्या कर दी थी।

इस घटना के चश्मदीद उसी गाड़ी पर सवार एसआई सरयू पंडित हैं। वह घटना के समय अपनी जान बचाकर झाड़ी में छिपकर सबकुछ देख रहे थे। घटना में योगेंद्र कुमार, विनोद सिंह और चंद्रा दुसाध को उग्रवादियों ने मौत के घाट उतार दिया था। मामला  सिमरिया थाना कांड संख्या 85/98 दर्ज है, जबकि सत्रवाद संख्या 18/01 हुआ। घटना को 24 नवंबर 1998 को दिन के 11.30 बजे अंजाम दिया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो नक्सलियों को फांसी की सजा