DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जंगली जानवर देखते ही करें हेल्पलाईन पर फोन

सांप या अन्य जंगली जानवर को देखें तो उसे मारे मत, केवल एक फोन करें। उसके बाद संस्था के कारिन्दें उसे अपने आप पकड़ कर ले जाएंगे। यह जानकारी बुधवार को गुड़गांव नगर निगम आयुक्त राजेश खुल्लर द्वारा बुलाई गई रेजीडेन्ट वैल्फेयर एसोसिएशनों की बैठक में दी गई।

इस बैठक में वाईल्ड लाईफ एसओएस नामक संस्था ने प्रजैन्टेशन दी और बताया कि सांप या अन्य जंगली जानवर दिखाई देने पर संस्था की हैल्पलाईन 09871963535 तथा 09818201987 पर फोन करें, उसके बाद उस जानवर को काबू करके पकड़ कर ले जाना संस्था की जिम्मेदारी है। संस्था की डाक् कार्तिक ने बताया कि भारत में पाये जाने वाले लगभग 272 किस्म के सांपों में चार प्रजातियों के सांप ही विषैले हैं, बाकियों में विष नहीं होता और वे हानिकारक भी नहीं होते।

उन्होंने बैठक में घवेरा तथा दोमुँही व सूरजमुखी सांप अपने हाथ में पकड़ कर उपस्थित लोगों को दिखाये और नगर निगम आयुक्त सहित कुछ लोगों ने स्वयं छूकर इन जानवरों को देखा। डाक् कार्तिक के अनुसार घवेरा भी विषैला नहीं होता।

गैर हानिकारक पशुओं को मारने पर 7 साल की सजा का प्रावधान कानून में है। इसी प्रकार बन्दर, भालू आदि को पकड़ कर उनको नचाना भी गैर कानूनी है। यहां तक कि सपेरों द्वारा सांपों को पकड़ना व उनका जहर निकालना भी गैर कानूनी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जंगली जानवर देखते ही करें हेल्पलाईन पर फोन