DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परिषद की बैठक में सफाई व्यवस्था को लेकर हंगामा

बुधवार को नगर पालिका परिषद की बोर्ड बैठक में शहर में सफाई व्यवस्था पर असंतोष व्यक्त कर जमकर हंगामा किया। हंगामे के बीच बैठक में हापुड़ को जिला बनाए जाने की मांग का ज्ञापन मुख्यमंत्री को भेजने समेत पालिका संबंधी 42 प्रस्ताव पास हुए। सुबह 11 बजे शुरू हुई बैठक में शुरूआत में सभासद शकील ने कहा कि उनके वार्ड में सफाई व्यवस्था ठीक नहीं है। सफाई नायक अभद्र व्यवहार करता है।

स्वास्थ्य विभाग में शिकायत के बाद भी सफाई नायक के विरुद्ध कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद तो अधिकांश सभासदों ने अपने-अपने वार्ड में सफाई व्यवस्था चौपट होने की बात कही और जमकर हंगामा किया। सभासद योगेंद्र पंडित ने प्रत्येक सभासद को उनके वार्ड में सफाई कर्मियों की संख्या, उनके नाम और पते उपलब्ध कराए।

ताकि वह उनकी डयूटी की पुष्टि कर सकें। इसके बाद सभी सभासदों ने कहा कि सभी इस सदन के माध्यम से मुख्यमंत्री से हापुड़ को जिला बनाए जाने की मांग करते हैं और उन्हें ज्ञापन भेजेंगे। चेयरमैन धर्मपाल सिंह ने बताया कि वह अपने स्तर से पत्र पहले ही भेज चुके हैं। अब पुन: भेज देंगे।

इसके बाद बैठक में विभिन्न मदों में किए गए खर्चे व प्रस्तावित खर्च के प्रस्ताव, प्रकाश विभाग कमेटी, स्वास्थ्य विभाग कमेटी, निर्माण विभाग कमेटी, वाटर वक्र्स व कर विभाग कमेटी की बैठक के प्रस्ताव स्वीकृत किए गए। सभासद प्रभारत अग्रवाल ने तीन प्रस्तावों पर अपनी आपत्ति व्यक्त की, जबकि अन्य सभासदों ने इन्हें पास कर दिया।

बैठक में 42 प्रस्ताव पास हुए, लेकिन इन 42 प्रस्तावों में किसी नए निर्माण विकास कार्य संबंधी प्रस्ताव नहीं था। इसलिए बैठक में सभासदों ने एजेंडे से अलग कुछ मुद्दे उठाए। बैठक में पालिका चेयरमैन धर्मपाल सिंह, ईओ मसूद अहमद, सभासद योंगेंद्र पंडित, टेकचंद, सुनील पटवारी, प्रताप छप्पू, विनोद गुप्ता, जितेंद्र जिम्मी जन, भीम सिंह, दामोदर आदि सभासद मौजूद थे।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:परिषद की बैठक में सफाई व्यवस्था को लेकर हंगामा