DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आंदोलनकारियों के चयन के लिये अलग से कक्ष स्थापित

उत्तराखण्ड राज्य के लिये संघर्ष करने वाले कई आंदोलनकारियों का चयन जिले में अभी भी नहीं हो पाया है। बताया जा रहा है कि चिन्हींकरण के लिये प्राप्त आवेदन पत्रों में कई खामियां है। जिलाधिकारी दिलीप जावलकर ने चिन्हींकरण के कार्य को प्राथमिकता के आधार पर निपटाने के लिये जिला कार्यालय मे एक अलग से कक्ष स्थापित कर प्रभारी भी नियुक्त किया है।

इस कक्ष मे अभी तक प्राप्त सभी आवेदन पत्रों को रखा गया है। यहां से आंदोलनकारी अपने आवेदनों में पाई गयी कमियों को देख कर उनको पूरा कर पुन: जमा भी कर सकते है। डीएम ने बताया कि निर्धारित अवधि के बाद एक बार फिर से आवेदनों की जांच की जाएगी। अंतिम निर्णय के बाद संबधित तहसीलों के उपजिलाधिकारियों से आंदोलनकारियों को पहचान पत्र सम्मानजनक तरीके से दिये जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आंदोलनकारियों के चयन के लिये अलग से कक्ष स्थापित