DA Image
17 फरवरी, 2020|1:45|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मारपीट व ज्यादती मामले में जांच के आदेश

उत्तर प्रदेश में ज्योतिबाफुलेनगर के मंडी धनौरा के कटरा निवासी नसीम की पिटाई तथा उस पर की गई ज्यादती मामले की जिलाधिकारी माहेश्वरी ने जांच के आदेश दिए हैं। जिलाधिकारी ने मामले की जांच अपर जिलाधिकारी को सौंपी है। सूत्रों के अनुसार नसीम ने उपजिलाधिकारी मंडीधनौरा कार्यालय में फैले भ्रष्टाचार की शिकायत लोकवाणी में की थी।

इससे चिढ़े उपजिलाधिकारी एम.एम.खान ने गत गुरुवार को पुलिस की मदद से उसे घर से उठवा लिया और अपनी भरी अदालत में उसकी कमर पर ईंटें रखवाकर तब तक मुर्गा बनाए रखा। जब तक वह बेहोश नहीं हो गया। बाद में उसे शांति भंग के आरोप में जेल भेज दिया गया। जेल भेजने से पहले उसकी पिटाई की गई।
 
बार एसोसिएशन के असरपाल सिंह ने बताया कि नसीम को प्रताडि़त किया जाना कानून के खिलाफ तथा उपजिलाधिकारी द्वारा पद के दुरुपयोग की श्रेणी में आता है। जिलाधिकारी ने इस मामले की जांच अपर जिलाधिकारी को सौंपी है हालांकि नसीम के परिजनों को इस जांच से कोई उम्मीद नहीं है। उन्होंने न्याय के लिए मामले की पूरी रिपोर्ट मानवाधिकार आयोग को सौंपी है।
 
मंडी धनौरा तहसील के अधिवक्ता संघ ने परिसर में उपजिलाधिकारी के विरुद्ध जांच एवं कार्रवाई की मांग करते हुए नारेबाजी की जबकि भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) का धरना इस घटना के विरोध में आज दूसरे दिन भी जारी रहा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:मारपीट व ज्यादती मामले में जांच के आदेश