DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब लड़कियों के लिए एसी बसें

अब लड़कियों के लिए एसी बसें

दिल्ली ट्रांसपोर्ट कापरेरेशन(डीटीसी) राजधानी में महिलाओं के लिए विशेष वातानुकूलित लो फ्लोर बस सेवा जल्द ही शुरू करने पर विचार कर रही है। डीटीसी द्वारा यह प्रस्ताव दिल्ली में महिलाओं (छात्रों) को सुरक्षित और विश्वसनीय बस सेवा प्रदान करने के उद्देश्य से रखा गया है। महिलाओं के हित में सोचे गये इस प्रयास को सफल बनाने  के लिए कॉनफिडरेशन ऑफ इन्डियन इन्डस्ट्रीज (सीआईआई), डीटीसी की सहायता कर रही है।

गहरे लाल रंग की खास वातानुकूलित इस बस की विशेषता यह होगी कि इसमें पावर स्टेयरिंग और ऑटोमेटिक ट्रांसमिशन मौजूद होंगे, लेकिन इस बस सेवा को शुरू करने से पहले यक्ष प्रश्न यह है कि आखिर दिल्ली में भारी व्यावसायिक वाहनों को चलाने के लिए वैध ड्राइविंग लाइसेंसधारी महिला चालक कहां से आयेंगी? खासकर ऐसी महिलाएं, जो वास्तव में बस चलाने की इच्छ़ुक भी हों। यह डीटीसी के लिए चुनौतीपूर्ण बात हो सकती है। इस पर डीटीसी के मैनेजिंग डायरेक्टर नरेश कुमार का कहना है कि महिला चालकों को यह बस चलाने में कोई कठिनाई नहीं होगी। वहीं कुमार इस बात से भी सहमत हैं कि कुशल महिला चालकों को तलाशना टेढ़ी खीर साबित हो सकती है, लेकिन उनका यह भी कहना है कि वह कुशल महिला चालकों को लाइसेन्स दिलाने में उनकी सहायता करेंगे। 
 
महिला चालक और सह-चालक सवारियों के साथ किस तरह का व्यवहार करें और इस दिशा में किस तरह अपने व्यक्तित्व को निखारें, इसमें सीआईआई महत्त्वपूर्ण भूमिका निभायेगी। डीटीसी ने सीआईआई के साथ एक सहमति ज्ञापन पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। इस अनुबन्ध में महिला चालकों और सहचालकों को कॉमनवेल्थ खेलों के समय बस में सवारी करने वाले अन्तरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों और अधिकारियों से अंग्रेजी में बोलना और सलीके से बातचीत करना सिखाया जाएगा। शुरुआत में डीटीसी 250 महिला चालकों और सह-चालकों को ट्रेनिंग देगी।

वातानुकूलित इस बस सेवा से डीयू की छात्रएं भी खासी उत्साहित हैं। बीकॉम की छात्र शोभा कहती हैं कि केवल लड़कियों के लिए बस सेवा शुरू होने पर कॉलेज जाना आरामदायक हो जाएगा। आज की तरह भीड़ से खचाखच भरी बसों में सवारी करने से छुटकारा मिल जाएगा। वहीं डीयू नॉर्थ कैंपस बीए. ऑनर्स की छात्र निशा तो यह बात सुन कर उछल ही गयी। वह खुशी से कहती है कि  हर दिन साधारण लोकल बसों में छेड़खानी करने वाले लड़कों से पाला पड़ जाता है, लेकिन केवल लड़कियों के लिए शुरू की जाने वाली बसों में अब उन बदतमीज लड़कों का सामना नहीं करना पड़ेगा। उसका यह भी कहना था कि इस बस सेवा से लड़कियों को कॉमनवेल्थ खेलों के समय सफर करने में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा।                            

दिल्ली में जल्द ही  लेडीज स्पेशल ट्रेन के बाद अब लेडीज स्पेशल एयर कन्डीशनर बसें चलने वाली हैं। ये बसें दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रओं के लिए शुरू की जाएंगी। इन बसों की खास बात यह होगी कि चालक और सह-चालक दोनों ही महिलाएं होंगी। इस पूरी बस पर महिलाओं का राज होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब लड़कियों के लिए एसी बसें