DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा ने शौरी से मांगा स्पष्टीकरण

भाजपा ने शौरी से मांगा स्पष्टीकरण

भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष राजनाथ की आरएसएस प्रमुख से मंगलवार शाम यहां मुलाकात के कुछ देर बाद पार्टी ने नेतृत्व को नकारा बताने वाले भाजपा सांसद अरुण शौरी से एक टीवी चैनल पर की गई टिप्पणियों के लिए सिर्फ सफाई मांगी है। गत सप्ताह जसवंत सिंह को आनन-फानन में पार्टी से निष्कासित करने के बाद मीडिया में हुई भारी फजीहत के बाद भाजपा शौरी के खिलाफ जसवंत की तर्ज पर कोई कड़ा कदम उठाने की हिम्मत नहीं जुटा पाई। यह भी चर्चा है कि संघ शौरी के खिलाफ किसी बहुत कड़े कदम के पक्ष में नहीं है।

दूसरी ओर, अरुण शौरी द्वारा पार्टी का नियंत्रण संघ को संभालने की सलाह को आरएसएस ने रिजेक्ट कर दिया। संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य ने एक विज्ञप्ति में कहा है कि राजनीतिक पार्टी को चलाना संघ का काम नहीं है। भाजपा को ठीक करना, उसे चलाना और आगे बढ़ाना पार्टी का काम है। यदि इस काम में भाजपा को संघ से कोई सलाह या सहायता चाहिए तो संघ उसे देगा। सरसंघ चालक मोहन भागवत भी दिल्ली में हैं और वह 28 अगस्त को एक संवाददाता सम्मेलन का आयोजन कर रहे हैं।

सूत्रों का कहना है कि शौरी की नेतृत्व के खिलाफ टिप्पणियों से राजनाथ सिंह व पार्टी के अन्य पदाधिकारी काफी नाराज हैं। वे अरुण शौरी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के पक्ष में थे। भाजपा अनुशासन समिति के अध्यक्ष राम नाईक ने बताया कि शौरी का बयान घोर अनुशासनहीनता है। उनके खिलाफ कोई कार्रवाई करनी होगी तो पार्टी का संसदीय बोर्ड करेगा। ‘घोर अनुशासनहीनता’ के बावजूद ‘कारण बताओ नोटिस’ देने के बजाय सिर्फ स्पष्टीकरण मांगा जाना संकेत देता है कि शौरी के खिलाफ कार्रवाई करने के मामले में संघ के हस्तक्षेप के कारण पार्टी की नहीं चली। जबकि सोमवार को निष्कासन की कार्रवाई का संकेत देते हुए कहा गया था कि शौरी शहीद होना चाहते हैं। 

पार्टी में भारी उहापोह की स्थिति बनी हुई है। भाजपा में ही कुछ लोगों का मानना है कि यदि शौरी को कारण बताओ नोटिस दिया जाता तो संभव है वह जवाब में बहुत कुछ कच्चा-चिठ्ठा खोल कर पार्टी नेतृत्व की और भी किरकिरी कर देते। इसलिए सिर्फ स्पष्टीकरण मांग कर कार्रवाई की खानापूर्ति करने में ही भलाई समझी गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भाजपा ने शौरी से मांगा स्पष्टीकरण