DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुंह के छाले

मुंह में छाले होना आम बात है। ऐसे में खाना-पीना दुश्वार हो जाता है। मुंह का स्वाद बिगड़ा रहता है। गनीमत है कि ज्यादातर मामलों में छाले कुछ समय परेशानी देकर अपने से गायब हो जाते हैं और कोई बुरा असर नहीं छोड़ते।

छालों की पहचान आसान है। ये बिल्कुल खड्ड जैसे होते हैं, रंग में भूरे-सफेद और लाल घेरे से घिरे हुए। कभी-कभी उन पर झिल्ली जैसी सरंचना भी ढकी होती है। इनकी संख्या अधिक होती है और ये मुंह के भीतर होंठ, गालों के अंदरूनी हिस्से और जीभ की निचली तरफ पैदा हो जाते हैं।

छाले क्यों होते हैं : हल्की-फुल्की अस्वस्थता या बुखार के साथ ही ये हो जाते हैं, और कभी-कभी कुछ स्त्रियों में महीना आने से पहले निकल आते हैं। तनाव में भी ये हो जाते हैं। कभी-कभी समस्या दांतों से भी जुड़ी होती है। किसी दांत का तेज किनारा, ब्रश करते हुए या डेंचर पहनते-उतारते वक्त बने जख्म भी परेशानी दे सकते हैं।

सरल घरेलू नुस्खे : गिलास भर कुनकुने पानी में आधी छोटी चम्मच नमक मिलाएं और इसे धीरे-धीरे मुंह में चलाएं। यह क्रिया दिन में तीन-चार मर्तबा दोहराएं। इस से थोड़ी जलन और दर्द हो सकता है, किंतु छाले जल्द भर जाते हैं।

हल्की-फुल्की दवाओं से काम चलाएं। छाले होने पर हाइड्रोकॉर्टिसोन युक्त चूसने वाली गोलियां और मुंह में लगनेवाली क्रीम लें और इस्तेमाल करें। उनसे छाले जल्द ठीक हो जाते हैं। इसी प्रकार दर्द मिटाने के लिए छालों पर सुन्न करने वाली स्थानीय संवेदनहारी दवा लगा सकते हैं। अधिक दर्द होने पर पैरासिटामोल की 500 मिग्रा की गोली प्रभावकारी है। जलन मिटाने के लिए छालों पर रुई के फोहे से बोरोग्लिसरीन लगाएं। शुद्घ देसी घी या मक्खन लगाकर भी छालों की जलन शांत कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुंह के छाले