DA Image
28 फरवरी, 2020|4:18|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली दरों पर संगठनों ने रोष जताया

बिजली बिलों पर दी जा रही सब्सिडी खत्म करने विभिन्न संगठनों ने दिल्ली सरकार की कड़े शब्दों में निंदा की है। इन संगठनों का आरोप है कि दिल्ली सरकार ने चुनाव के दौरान लोगों को बेवकूफ बनाया और अब चुनाव जीतने के बाद लोगों की जेब काटी जा रही है।


दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ओमप्रकाश कोहली ने बयान जारी कर कहा कि कमरतोड़ महंगाई से पहले ही दिल्लीवासी कराह रहे हैं, ऐसे में मध्य वर्ग के लिए तो बिजली की बढ़ी दरों का बोझ असहनीय हो जाएगा। उन्होंने दिल्ली सरकार के इस कदम को असंवेदनापूर्ण और जन विरोधी बताया। प्रो. कोहली ने कहा कि निजी कंपनियों के दबाव में सरकार लगातार दाम बढ़ा रही है।


भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री विजय गोयल ने कहा कि सब्सिडी वापस लेकर शीला सरकार ने साबित कर दिया है कि कांग्रेस आम आदमी की शुभचिंतक नहीं है और दिल्ली सरकार के इस फैसले से आम आदमी को जबरदस्त झटका लगा है। उन्होंने बिजली कंपनियों की कार्यप्रणाली की जांच सीबीआई से भी कराने की मांग की है।
अखिल भारतीय हिंदू महासभा के प्रदेश महामंत्री वीरेश कुमार और हिंदू युवक सभा के अध्यक्ष उमेश मोनिश ने इसके खिलाफ प्रदर्शन की चेतावनी दी है। पीपुल्स राइट्स फंट्र के प्रमुख अभिमन्यु गुलाटी ने भी कहा कि उनका संगठन इसके खिलाफ प्रदर्शन करेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:बिजली दरों पर संगठनों ने रोष जताया