DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टूटी रेलवे पटरी, हादसा टला

समय पर वेतन ना मिलने और नौकरी से निकाले जाने की धमकी को लेकर सैकड़ों आशा ने जमकर हंगामा किया। आशा सम्मेलन में कुछ आशा को पुरस्कार देने के बाद जब यूपी कार्डिनेटर हरिओम दीक्षित ने जब कुछ आशा की समस्या पूछी तो हंगामा मच गया। जनपद के हर ब्लॉक की सैकड़ों आशा अपनी बात रखने के लिए होड़ करने लगी।

कई आशा ने यूपी कार्डिनेटर को शिकायत रखी कि उन्हें समय पर वेतन का भुगतान नहीं किया जा रहा है। शिकायत करने पर नौकरी से हटाए जाने की धमकी दी जाती है। प्रसव की व्यवस्था मोमबत्ती में करनी पड़ती है। जब इस तरह की शिकायतें लंबी होने लगी तो सीएमओ डा.ए.के.धवन के हाथ-पांव फू़ल गए। उन्होंने आशा को डांटना शुरू कर दिया।

लेकिन दीक्षित ने इस मामले को गंभीरता से लेकर समाधान निकालने का निर्देश दिया। इस संबंध में एडिशनल सीएमओ डा.चंद्रशेखर ने बताया कि आशा की समस्या को दुरूस्त करने का प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए हर ब्लॉक के मेडिकल आफीसर से आशा की सूची मांगी जा रही है। इसके बाद उनके वेतन की जांच की जाएगी। अगर समस्या जनपद स्तर की होगी तो समाधान यहीं से कर दिया जाएगा। अगर समस्या शासन स्तर की होगी तो समाधान लखनऊ से होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टूटी रेलवे पटरी, हादसा टला