DA Image
4 अप्रैल, 2020|4:27|IST

अगली स्टोरी

जहर देने के आरोपी को आजीवन कारावास

दिल्ली हाईकोर्ट ने 12 साल पुराने एक मामले में दोस्त को जहर देकर मारने के आरोपी को दोषसिद्ध ठहराते हुये आजीवन कारावास की सजा सुनायी है। न्यायाधीश प्रदीप नंदराजोग और इंदरमीत कौर की पीठ ने आरोपी हरदेव प्रसाद की जमानत याचिका ठुकराते हुये उसे हत्या का दोषी ठहराया और पांच हजार रुपए के जुर्माने के साथ उम्र कैद की सजा सुनाई।

इस मामले में हरदेव प्रसाद ने 1997 में राम केसर को कुछ अन्य मित्रों के साथ भोजन के लिये अपने घर बुलाया और इसी दौरान उसने पेय पदार्थ के साथ पोटेशियम सायनाइड मिला कर उसे पिला दिया। जिससे उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गयी। पोटेशियम सायनाइड उसने उसी फैक्टरी से चुराया था, जिसमें वह काम करता था।

दरअसल प्रसाद को फैक्टरी में मजदूर यूनियन की गतिविधियों में सक्रिय रहने के कारण नौकरी से निकाल दिया गया था। यूनियन के कार्यों में साथ न देने के कारण वह रामकेसर से नाराज हो गया। इसी का बदला लेने के लिये उसने यह साजिश रच कर मित्र की हत्या कर दी। अदालत ने सबूतों के आधार पर उसे हत्या का दोषी ठहराते हुए यह सजा सुनाई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:जहर देने के आरोपी को आजीवन कारावास