DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कमेले को लेकर मंगलवार को एनएचआरसी में पेश होंगे आलाधिकारी

हापुड़ रोड स्थित नगर निगम के अवैध कमेला और भट्ठियों को बंद कराने के मामले में मंगलवार को मुख्य सचिव अतुल कुमार गुप्ता, उ.प्र.प्रदूषण नियंत्रण पार्षद के अध्यक्ष, डीएम, डीआईजी और नगर आयुक्त राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में पेश होंगे। आयोग ने इन अधिकारियों को सम्मन जारी कर तलब किया है। मेरठ जिला प्रशासन और नगर निगम पर आयोग के आदेश के बावजूद अवैध कमेला और भट्ठियों को बंद कराने में विफल रहने का आरोप है।

आयोग में जवाब देने के लिए सोमवार को प्रशासन के स्तर पर मैराथन बैठक चलती रही। साथ ही निगम और प्रशासन कागजी कार्रवाई में जुटा रहा। आयोग से पुन: आधुनिक कमेला के निर्माण और हापुड़ रोड स्थित अवैध कमेला व भट्ठियों को हटाने के लिए समय मांगे जाने की तैयारी है। कानून-व्यवस्था की स्थिति की भी दुहाई दी जायेगी। प्रशासन और नगर निगम ने मानवाधिकार आयोग के 10 अगस्त की सुनवाई के बाद की गई सारी कार्रवाई का कागजी ब्योरा तैयार कर लिया।

इसके लिए सोमवार को डीएम के कैम्प कार्यालय में दोपहर 12 बजे के बाद डीआईजी एम.के.बसाल, एडीएम सिटी महावीर सिंह आर्य, सिटी मजिस्ट्रेट सी.पी.सिंह सहित कई अधिकारी उपस्थित थे। प्रशासन और नगर निगम के स्तर पर यह रिपोर्ट तैयार की गई है कि अवैध कमेला और भट्ठियों के मामले में किसी प्रकार की लापरवाही नहीं हुई है। कानून-व्यवस्था के कारण 16  जून के बाद पर्याप्त निगरानी नहीं रखी जा सकी।

साथ ही प्रशासन और नगर निगम ने आयोग के आदेश के बाद की कार्रवाई का भी लेखा-जोखा प्रस्तुत करेंगे। अधिकारियों को केवल चिन्ता यह सता रही है कि रमजान के महीने में आयोग किसी बड़ी कार्रवाई का आदेश न कर दे। वैसे कमेला और अवैध भट्ठियों के मामले में फिलहाल अधिकारियों ने चुप्पी साध ली है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कमेले को लेकर एनएचआरसी में पेश होंगे आलाधिकारी