DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छात्रों का विवि प्रशासनिक भवन में हंगामा, कुलपति को हटाने की मांग

हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विवि प्रशासन के रोजाना बदल रहे निर्णयों से बौखलाए आंदोलनकारी छात्रों ने आज विवि के प्रशासनिक भवन में जमकर हंगामा किया। विवि के कुलपति द्वारा छात्रों को वार्ता का समय न दिये जाने पर गुस्साए छात्रों ने सचिवालय परिसर में जमकर नारेबाजी की और परिसर में कुलपति समेत खुद को बंद कर लिया और वहीं धरना दे कर बैठ गये। खबर लिखे जाने तक विवि के मुख्यालय में प्रशासनिक अधिकारियों और भारी पुलिस बल की तैनाती के बीच स्थिति तनाव पूर्ण बनी हुयी है। इधर छात्रों ने विवि के कुलपति प्रोक् एसके सिंह को हटाने की मांग की है।

अपनी पूर्व घोषणा के अनुरूप सोमवार को विवि के छात्रों ने लिंगदोह समिति की सिफारिशों में बदलाव करने की मांग को लेकर बिडला परिसर एवं विवि के प्रशासनिक भवन में कामकाज पूरी तरह ठप कराया। स्थिति तब बिगड़ी जब कुलपति से मिलने गये छात्रों को प्रशासनिक भवन के गेट पर ही भारी संख्या में तैनात पुलिस बल का सामना करना पड़ा। काफी देर पुलिस के साथ नोकझोंक के बाद छात्र प्रशासनिक भवन के गेट पर पहुंचे किंतु वहा पहले से ही ताला लगा हुआ मिला।

लगभग एक घण्टे की जिद्दोजहद के बाद भवन का मुख्य गेट खोला गया, उसके बाद जैसे ही छात्र कुलपति कार्यालय तक पहुंचे वहां भी प्रशासन द्वारा भीतर से तालाबंदी कर दी गई। इस बीच विवि प्रशासन एवं छात्रों के बीच वार्ता की अनेक कोशिशेंे हुयी किंतु दोनों पक्षों के अड़ियल रवैये के चलते वार्ता नही हो पायी। जिससे तनाव की स्थिति पैदा हो गई और छात्र विवि के कुलपति एंव शिक्षकों के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने लगे।

मौके पर पहुंचे उपजिलाधिकारी एवं कोतवाली प्रभारी द्वारा दिन भर दोनों पक्षों के बीच समझोता कराने का प्रयास किया गया लेकिन उन्हें सफलता नही मिली। स्थिति यह है कि समाचार लिखे जाने तक प्रशासनिक भवन में विवि प्रशासन के अधिकारी और छात्र अपनी अपनी जगह डटे हुए थे, और स्थिति तनाव पूर्ण बनी हुयी थी। छात्रों की मांग है कि गढ़वाल विवि में प्रदेश के छात्रों को 50 प्रतिशत आरक्षण और प्रवेश में एनसीसी, एनएसएस आदि का वेटेज दिया जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छात्रों का विवि प्रशासनिक भवन में हंगामा