class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नकली दवाओं की खेप बरामद, कंपनी के खिलाफ कार्यवाही

पुलिस महानिदेशक के आदेश पर सोमवार की दोपहर ड्रग इंस्पेक्टर की अगुवाई में एक टीम ने नगर के ब्रांच नगर क्षेत्र में दवा के थोक विक्रेताओं के यहां पर छापा मारा। इस दौरान कई दवाओं में साल्ट की मात्र मानक से कम मिली। दवा के दुकानों की छापेमारी कर रही टीम ने बताया कि, पुलिस महानिदेशक का एक फैक्स एसपी को प्राप्त हुआ था, जिसमें फ्रांसिस बायोटेक कंपनी की विभिन्न शाखाओं की दवाओं में मिलावट की शिकायत की बात कही गयी थी।

उक्त कंपनी की अलग-अलग शाखाओं के ब्रांड जैसे एसीपी-एमआर, एसीपी-एसपी, एसीपी-प्लस आदि में एसिक्लोफेन की मात्र शून्य मिली। उक्त तीनों प्रकार की दवाओं के लगभग दो दजर्न डिब्बे गलत पाये गये। इसी प्रकार ड्रग टीम ने अन्य कई प्रकार की वैक्सीन भी पकड़ी है, जिनका रख-रखाव सही ढंग से नहीं हो रहा था। टीम ने दुकानों से सभी प्रकार के नमूने एकत्र किये और संबंधित कंपनी के खिलाफ कार्यवाही की बात कही। यह पूछने पर कि, क्या इसमें दुकानदार का भी दोष है।

टीम ने कहा कि, दुकानदार के पास सारे माल का बिल है। लिहाजा, उसके खिलाफ कोई लम्बी कार्यवाही नहीं होगी। टीम के लोगों ने बताया कि उक्त कंपनी के खिलाफ पूरे उत्तर प्रदेश में शिकायतें मिली थीं। कंपनी के लोगों से जब पूछताछ हुई तो उनके द्वारा उन दुकानों का पता बताया गया, जहां पर माल बेचा गया था। इसी आधार पर कार्यवाही की जा रही है। टीम में उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. गणोश प्रसाद, सहायक सी.एम.ओ आर.एन. सिंह, डीआई ए.के.मल्होत्र व जिला मलेरिया अधिकारी एल.सी.जायसवाल आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नकली दवाओं की खेप बरामद