DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिक्षक दिवस ब्लैक डे के रूप में मनाएंगे लेक्चरर

कॉलेज लेक्चररों ने मुख्यमंत्री पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया है। स्कूल लेक्चरर के समान छठे वेतन आयोग के तहत ग्रेड देने से इनका गुस्सा सातवें आसमान पर है। सोमवार को गवर्नमेंट कॉलेजों ने लेक्चररों ने क्लास का बहिष्कार किया। 25 से प्रदेश भर के लेक्चरर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे।

हरियाणा गवर्नमेंट कॉलेज टीचर एसोसिएशन ने शिक्षक दिवस को ब्लॉक डे के रूप में मनाना का निर्णय लिया है। इस दिन बेस्ट कॉलेज लेक्चरर को सम्मानित करने के लिए हरियाणा सरकार ने सम्मान दिवस मनाने का निर्णय लिया है। एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष प्रोफेसर एस.पी. फोगाट कहते हैं कि यह सरासर नाइंसाफी है। लेक्चररों की मांग को अनसुनी कर दी गई है। इस अन्याय के खिलाफ लेक्चर्स ने आंदोलन छेड़ने का निर्णय लिया है।

27 अगस्त को रोहतक में रैली की जाएगी। जब तक सरकार कॉलेज लेक्चररों को छठे आयोग की तरह वेतनमान नहीं देती, क्लास का बहिष्कार जारी रहेगा। लेक्चररों को अलग-अलग मिलने वाले पांच ग्रेड को एक कर दिया गया है। फोगाट के अनुसार आदेश को देखकर लगता है कि सरकार के लिए स्कूल और कॉलेज के लेक्चरर में फर्क नहीं। ग्रेड का निर्धारण यूजीसी करती है। राज्य सरकार उस पर मुहर लगाती है। जो सरकार ग्रेड दे रही है, वह क्लर्क के ग्रेड से नीचे है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिक्षक दिवस ब्लैक डे के रूप में मनाएंगे लेक्चरर