DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनसीआर में फैल रहा मिलावटी घी का कारोबार

एनसीआर में मिलावटी घी का कारोबार धड़ल्ले से फैल रहा है। फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में मिलावटी घी पकड़े जाने के बाद अब गाजियाबाद में भी पचास लाख रुपये कीमत का मिलावटी घी पकड़ा गया है। इससे मिलावटी कारोबारियों के जाल का पर्दाफाश हो रहा है। लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे इन कारोबारियों के खिलाफ अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है।

आगरा में मिलावटी देशी का भंडाफोड़ होने के बाद फरीदाबाद प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर फरीदाबाद में भी मिलावटी करोबारियों पर शिकंजा कसने की तैयारी की। प्रशासन ने बल्लभगढ़ के दो व्यापारियों के यहां छापेमारी कर घी के चार सेंपल लिए थे। स्वास्थ्य विभाग द्वारा लिए गए घी के सेंपलों की रिपोर्ट आ चुकी है। इनमें दो सेंपल पास और दो फेल पाए गए। पुलिस की रिपोर्ट आनी बाकी है।

हैरानी की बात तो यह है कि मिलावटी घी के छापेमारी को हुए करीब एक माह बीत चुका है, लेकिन अभी तक यह खुलासा नहीं हुआ कि काबू हुए मिलावटी घी में क्या-क्या मिलाया जाता रहा है? जबकि गाजियाबाद में पकड़े जाने वाले घी में इस धंधे से जुड़े लोग असली घी के एक टीन में चार टीन वनस्पति घी के अलावा दो टीन रिफाइंड के मिलाते थे।

इस पूरे घोल में देशी घी की खशबू के लिए एसेंस डाला जाता था। सेंपल की रिपोर्ट आने के मामले में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी डी.के.शर्मा ने बताया कि इस मामले में रिपोर्ट के आधार पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इधर, पुलिस विभाग ने भी इन दुकानदारों के सेंपल लिए थे, लेकिन पुलिस विभाग के अधिकारियों के तबादला होने के कारण जांच का खुलासा नहीं हो पाया है।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एनसीआर में फैल रहा मिलावटी घी का कारोबार