DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कई स्थानों से लोगों ने तोड़ दी है पाइप लाइ, प्लेटफार्म से गायब हो जाती हैं नलों की टोटियां

स्टेशन पर यात्रियों को पीने के लिए पानी नहीं है और हजारों लीटर पानी रोजाना बेकार बह रहा है। प्लेटफार्म पर आने वाली पानी की पाइल लाइ को लोगों ने अपने हिसाब से कई स्थानों से तोड़ दिया है। जिनसे लगातार पानी बह रहा है। यहीं वजह है कि पानी की प्रेशर न होने के कारण स्टेशन पर ठीक प्रकार से पानी नहीं पहुंच पा रहा है। इतना ही नहीं प्लेटफार्म पांच से तो नलों की टोटियां तक गायब हो जाती है। जिसने घंटों पानी बेकार बहता है।

गाजियाबाद रेलवे स्टेशन से रोजाना एक लाख यात्री सफर करते हैं। यात्रियों को पीने के लिए पानी नहीं मिल पाता। अक्सर नलों से पानी गायब रहता है। कई बार तो स्टेशन की सफाई के लिए भी पानी नहीं आता। इसका प्रमुख कारण है कि स्टेशन पर आने वाली पानी की पाइल लाइन को लोगो ने अपने हिसाब से डैमेज किया हुआ है। कुछ स्तानों पर रेलवे की पाइप लाइन इतनी जजर्र हो चुकी हैं कि खुद ही टूटकर उससे पानी बहता रहता है। यहां से पानी भरने के लिए लोग इस लाइन को और ज्यादा तोड़ देते हैं। जिसके कारण प्लेटफार्मो पर पानी नहीं पहुंच पाता।

पिछले दिनों रेलवे अधिकारियों ने जजर्र लाइनों को दुरूस्त कराने का भी दावा किया था। लेकिन स्थिति ज्यो की त्यो बनी हुई हैं। रोजाना हजारों लीटर पानी बेकार बह जाता है। प्लेटफार्मो से चोर व नशेड़ी नलों की टोटियां चुरा कर ले जाते हैं। जिसके कारण रात भर पानी बहता रहता है। इस संबंध रेलवे अधिकारियों का कहना है कि टूटी लाइनों को दुरूस्त कराया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बेकार बह रहा है रेलवे का हजारों लीटर पानी