DA Image
6 अप्रैल, 2020|4:29|IST

अगली स्टोरी

जीवित लोगों की स्थापित हो सकती हैं प्रतिमाएं: सरकार

करोड़ों रूपये के बजटीय आवंटन से मुख्यमंत्री मायावती और बसपा संस्थापक कांशीराम की प्रतिमाएं स्थापित करने वाली उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा है कि यह गलत धारणा है कि केवल मृत लोगों की प्रतिमाएं ही स्थापित की जा सकती हैं।
   
मायावती की प्रतिमा स्थापित किये जाने के मुद्दे को जिस तरह से बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया जा रहा है, उस पर राज्य सरकार ने निराशा व्यक्त करते हुए सुपर स्टार अमिताभ बच्चन और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा स्थापित किये जाने का उदाहरण दिया।
   
राज्य सरकार ने अपने हलफनामे में कहा कि यह गलत धारणा है कि केवल जीवित लोगों की प्रतिमाएं ही स्थापित की जा सकती है। देश के भीतर या बाहर जीवित लोगों की प्रतिमाएं स्थापित किये जाने के उदाहरण की कमी नहीं है। उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा कि भारतीय परिदृश्य में कोई भी व्यक्ति आसानी से ए बी वाजपेयी इंस्टीच्यूट आफ टेक्नोलाजी, ग्वालियर और अमिताभ बच्चन इंस्टीच्यूट सैफई, इटावा का उदाहरण दे सकता है।
   
प्रदेश सरकार ने कहा  देश के बाहर भी फिल्मस्टारों, क्रिकेटरों तथा अन्य जीवित लोगों की प्रतिमाएं मादाम तुसाद म्यूजियम में स्थापित की गई है। उत्तर प्रदेश सरकार सार्वजनिक धन का दुरूपयोग कर मायावती, कांशीराम और अन्य दलित नेताओं एवं बसपा के चुनाव चिह्न हाथी की प्रतिमा स्थापित करने का आरोप लगाने वाली एक याचिका का जवाब दे रही थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:जीवित लोगों की स्थापित हो सकती हैं प्रतिमाएं: सरकार