DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लूट की घटनाओं में वांछित चार व्यक्ति गिरफ्तार

वाराणसी के आदमपुर थाना क्षेत्र के भदउं डाट पुल के नीचे कल शाम एसओजी की टीम ने पूर्वांचल में लूट और हत्या की घटनाओं में शामिल चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इनमें से एक खुफिया ब्यूरो के उपनिरीक्षक का पुत्र है। इस गिरोह से जुड़े सीआरपीएफ के दो जवानों को निलंबित कर दिया गया है। उन्हें गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।
    
नगर पुलिस अधीक्षक विजय भूषण ने बताया कि पकड़े गए लुटेरों में आईबी के एक दरोगा का पुत्र है, जिसने अपने साथियों के साथ मिलकर आधा दर्जन स्थानों पर हत्या और लूट की वारदातों को अंजाम दिया है। कल दोपहर सूचना मिली थी कि कुछ बदमाश आजमगढ़ जिले के देवगांव स्थित एसबीआई शाखा से रूपये लूटने के फिराक में हैं। 

सूचना के बाद पुलिस अधीक्षक ने एसओजी प्रभारी को भदउं डाट पुल के नीचे चेकिंग करने का निर्देश दिया। चेकिंग के दौरान पुलिस ने मोटरसाइकिल सवार चार बदमाशों को रोकने का प्रयास किया, लेकिन वे गोलीबारी करते हुए भागने लगे। पुलिस ने घेराबंदी करके उनको धर दबोचा। तलाशी के दौरान उनके कब्जे से तमंचा और पिस्तौल बरामद किया गया।
    
पकड़े गये लोगों में आई बी के उपनिरीक्षक रामबलि कश्यप का पुत्र अरविंद कश्यप, आजमगढ़ जिले के दिलौरी निवासी राजेश तिवारी, रामचंद्रपुर निवासी मनीष राय और रामगढ़ निवासी मत्युंजय उर्फ विक्की सिंह शामिल हैं। इस गिरोह से जुड़े सीआरपीएफ के दो जवानों को निलंबित कर दिया गया है। उन्हें गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है ।
  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लूट की घटनाओं में वांछित चार व्यक्ति गिरफ्तार