DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भक्तों के लिए गणेश लीला

भक्तों के लिए गणेश लीला

ज्ञान के देवता और विघ्नहर्ता की इस महीने वापसी हो गई है। ‘गणेश लीला’ के माध्यम से दर्शक गणेशजी की महिमा का वर्णन सहारा वन पर देख सकते हैं।

गणेश अर्थात गजानन देवता, हिन्दू मान्यताओं एवं परंपराओं के अनुसार, सर्वाधिक प्रसिद्ध देवताओं में एक हैं, और इनकी पूजा सबसे पहले की जाती है। गणोशजी सौभाग्य के प्रतीक और विघ्नों के नाशक हैं। गणोशजी  को शिव और पार्वती का पुत्र माना जाता है। ‘गणेश लीला’, भगवान गणेश के जीवन पर आधारित है, जिसमें उनके जन्म एवं उसके बाद की घटनाओं को दिखाया जाएगा।

किंवदंती यह है कि भगवान शिव की पत्नी पार्वती ने एक बार संतान की इच्छा प्रकट की, भगवान शिव ने उन्हें एक वर्ष तक ‘पुण्यक व्रत’ करने के लिये कहा। पार्वती द्वारा ‘सनत कुमार’ नामक एक पुरोहित की सहायता से व्रत शुरू किया गया। नाना पुराण निगमागम ने गणेश के सिर को आत्मा-सर्वोत्तम, मानव अस्तित्व की वास्तविकता के रूप में बखान किया है। उनका मानव शरीर माया या भ्रम-मानव जाति का भौतिक अस्तित्व का द्योतक है। शो का निर्माण क्रियेटिव आई ने किया  है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भक्तों के लिए गणेश लीला