अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयोग ने वरुण को दोषी माना

निर्वाचन आयोग ने पीलीभीत में भाजपा के घोषित प्रत्याशी वरुण गांधी को भड़काऊ भाषण के मामले में दोषी करार देते हुए भाजपा से कहा है कि वह गांधी को चुनाव में उम्मीदवार न बनाये। रविवार को आयोग ने कहा कि वरुण आदर्श चुनाव संहिता के उल्लंघन मामले में दोषी हैं। हालांकि आयोग ने यह स्पष्ट नहीं किया कि वरुण निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं या नहीं। उधर, भाजपा ने आयोग के फैसले पर सवाल खड़ा कर दिया है। भाजपा का कहना है कि वरुण ही पार्टी के उम्मीदवार होंगे। पार्टी का यह भी कहना है कि एसे फैसले देने का निर्वाचन आयोग को कोई हक नहीं है। याद रहे भाजपा ने पहले वरुण के बयान से पल्ला झाड़ते हुए कहा था कि वरुण का बयान उनका अपना था और पार्टी का इससे कोई लेना-देना नहीं है। पीलीभीत से कांग्रेस उम्मीदवार वीएम सिंह ने भी आयोग में शिकायत दर्ज करायी थी कि वरुण भड़काऊ भाषण दे रहे हैं और अल्पसंख्यकों के खिलाफ विष उगल रहे हैं। सिंह ने दो सीडी भी आयोग को सौंपी थी, जिसमें वरुण मुसलिमों को निशाना बनाकर विषवमन कर रहे थे। वरुण पर बीसलपुर में चार लोगों को पैसा बांटने का भी आरोप लगा है। इस मामले में केस भी दर्ज कराया गया थी। गिरफ्तारी के डर से वरुण ने फिलहाल यूपी जाना छोड़ दिया था और इलाहाबाद हाइकोर्ट में अग्रिम जमानत की याचिका भी दी थी। चूंकि यूपी में ऐसे मामले में एसा प्रावधान नहीं है इसलिए वरुण ने दिल्ली हाइकोर्ट से जमानत ले ली। वरुण और उनके वकील का कहना था कि जो सीडी सौंपी ग्र्यी है, उनमें आवाज उनकी नहीं है। वरुण का कहना था कि उन्हें जान-बूझकर फंसाया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आयोग ने वरुण को दोषी माना