DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

येचुरी ने माना, चुनाव में हुई माकपा से गलती

येचुरी ने माना, चुनाव में हुई माकपा से गलती

सीताराम येचुरी ने माना कि गत चुनाव में उनकी पार्टी ने गलतियां की जिसका खामियाजा उसे भुगतना पड़ा। उन्होंने कहा कि माकपा को अपनी भूलों के कारण ऐतिहासिक हार का सामना करना पड़ा। वह जेएनयू में छात्रों को संबोधित कर रहे थे।

माकपा सांसद और पोलित ब्यूरो के वरिष्ठ सदस्य सीताराम येचुरी ने भारतीय जनता पार्टी में चल रहे कलह पर चुटकी लेते हुए कहा कि भाजपा अब ‘भारतीय जिन्ना पार्टी’ और ‘भगाओ जसवंत पार्टी’ बन कर रह गई है।

येचुरी जवाहरलाल नेहरू विश्वविदयालय में भारतीय वाम और भविष्य में उसकी चुनौतियां पर छात्रों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ कि 1989 के बाद किसी धर्मनिरपेक्ष सरकार में माकपा की भागेदारी नहीं रही।

सिंगुर और नंदीग्राम मुद्दे पर उनका कहना था कि माकपा सरकार ने गरीब किसानों और भूमिहीनों को जमीन का मालिकाना हक दिया। इसी कारण किसान अपनी आवाज बुलंद कर सके। उनका मानना था कि पार्टी ने इन मुद्दों को सही तरीके से नहीं निपटाया और इसीलिये उसे हार का सामना करना पड़ा। वैसे येचुरी पार्टी की केरल इकाई में चल रहे महाभारत पर चुप्पी साधे रहे।

भाजपा में चल रहे विवाद पर उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि भाजपा अब भारतीय जिन्ना पार्टी और भगाओ जसवंत पार्टी में तब्दील हो चुकी है। येचुरी ने कहा कि संप्रग सरकार देश की संप्रभुता के साथ समझौता कर रही है। अमेरिका के साथ पींगे बढ़ा संप्रग सरकार ने अपने रक्षा प्रतिष्ठानों तक में अमेरिका को प्रवेश और निगरानी की अनुमति दे दी है ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:येचुरी ने माना, चुनाव में हुई माकपा से गलती