DA Image
4 अप्रैल, 2020|5:26|IST

अगली स्टोरी

हरियाणा में दुर्लभ, पानी और महिला

महाराष्ट्र और हरियाणा के विधानसभा चुनाव की जोरदार तैयारी चल रही है। हरियाणा में कांग्रेस अकेले व भाजपा इनेलो के साथ और हजकां बसपा के साथ चुनाव मैदान में होंगे। लेकिन हजकां (हरियाणा जनहित कांग्रेस) का नया चुनाव चिह्न् ‘पनिहारिन’ सिर पर पानी के मटका लिए हुए एक जवान व सुन्दर-सी औरत बेहद आकर्षक और भाग्यशाली इसलिए लगता है, क्योंकि आज पानी और महिला दोनों ही दुर्लभ हो चले हैं।
वेद, मामूरपुर, नरेला, दिल्ली

ओवरलोडिंग की समस्या
वाहन चालक वाहनों में औसत से ज्यादा सवारियां बिठाते हैं, जिसके कारण दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं। ट्रैफिक कानूनों का खुलेआम उल्लंघन हो रहा है। बस चालक यात्रियों को बसों की छत पर बैठाकर ले जाते हैं। इस समस्या को जल्द सुलझने का प्रयास किया जए। ताकि इनसे होने वाली दुर्घटनाओं को रोका जा सके। ट्रैफिक पुलिस इन वाहनों के प्रति सख्त रुख अपनाए तो समस्या से निपटा जा सकता है।
परमदीप सिंह, मोहाली

दुरुस्त करें न्यायपालिका को
प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने इस बात पर चिंता जताई है कि वकीलों की बड़ी फौज और दक्ष न्यायपालिका के बावजूद न्याय आम आदमी की पहुंच से बहुत दूर है। अभी भी देश में लगभग साढ़े तीन करोड़ मुकदमें लंबित हैं। अनेक रिक्तियां इसके लिए जिम्मेदार कारणों में से एक है। इन रिक्त पदों पर नियुक्ति जल्दी होनी चाहिए, लेकिन अत्यंत सावधानी से। अन्यथा न्याय मिलेगा लेकिन अन्याय की गुंजाइश बनी रहेगी। भारत जैसे विशाल लोकतांत्रिक देश में न्यायपालिका को अधिक सक्रिय करने के लिए एक विशेष पहल की आवश्यकता है। चूंकि न्याय व्यक्ति का मौलिक अधिकार हे, इसलिए इसे प्राथमिकता देनी चाहिए।
रामेन्द्र मिश्रा, आदर्श नगर, दिल्ली

दुर्गति बहादुरशाह जफर की
स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त के अंक के ‘हिन्दुस्तान’ में फिरोज बख्त अहमद का लेख ‘दुर्गति बहादुरशाह जफर और उनकी संतानों की’ पढ़ा। बहुत तकलीफ हुई। आजादी के बाद कोलकाता में बसे उनके वंशजों को जलालत व जिल्लत भरी जिंदगी जीने का जो चित्रण लेख में पढ़ा है, वह किसी का भी सिर झुका देने के लिए काफी है। एक बादशाह का परिवार चाय बेचे या छुरियां तेज कर रोजी कमाए और उस पर भी उस परिवार की युवा लड़कियों की इज्जत पर बदमाश लार टपकाते फिरें- यह सब वहां की व केन्द्र सरकार की लापरवाही दर्शाते हैं। पता चलने पर ही कुछ तो कर दे सरकार।
इन्द्र सिंह धिगान, दिल्ली

चिंता की बैठक
भाजपा की चिंतन बैठक
बन गई
चिंता की बैठक
लगे रहो और करते रहो
बस उठ्ठक-बैठक।
वीरेन कल्याणी, शाहदरा, दिल्ली

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:हरियाणा में दुर्लभ, पानी और महिला