class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जसवंत के निष्कासन से संघ ने पल्ला झाड़ा

जसवंत के निष्कासन से संघ ने पल्ला झाड़ा

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) ने जसवंत सिंह प्रकरण से पल्ला झाड़ते हुए स्पष्ट कहा है कि यह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का अंदरूनी मामला है और इसका संघ से कुछ लेना देना नहीं है।

आरएसएस प्रमुख मोहन राव भागवत ने पत्रकारों से साफ साफ शब्दों में कहा कि जसवंत का पार्टी से निष्कासन भाजपा का निजी मामला है। राज्य के तीन दिन के दौरे पर शुक्रवार को यहां पहुंचे भागवत ने जसवंत के बारे में पूछे गए सवालों को टालते हुए कहा कि यह मेरी टिप्पणी का विषय नहीं है।

भागवत ने पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना के दो धर्मों के साथ रहने पर संदेह और एक अलग राज्य की मांग को धर्मनिरपेक्ष नहीं बताया। गौरतलब है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता और सांसद जसवंत सिंह ने अपनी ताजा किताब जिन्नाः इंडिया पार्टीशन इंडिपेंडेस में जिन्ना को धर्मनिरपेक्ष कहते हुए उनकी प्रशंसा की है। सिंह के इस कदम के कारण आरएसएस और भाजपा के कई लोगो की भौहें तन गईं जिसका परिणाम यह रहा कि उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जसवंत के निष्कासन से संघ ने पल्ला झाड़ा