DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दूसरे बैंक के एटीएम से निकाल सकेंगे दस हजार

दूसरे बैंक के एटीएम से निकाल सकेंगे दस हजार

भारतीय रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को कहा कि ग्राहक किसी अन्य बैंक से एटीएम के जरिए एक बार में 10000 रुपए से अधिक राशि नहीं निकाल पाएंगे। इसी तरह दूसरे बैंक के एटीएम से महीने में पांच बार पैसे निकालने की छूट होगी। उल्लेखनीय है कि अप्रैल से तीसरे पक्ष द्वारा एटीएम लेन-देन शुल्क मुक्त कर दिया है।

बैंकों के मंच इंडियन बैंकस एसोसिएशन (आईबीए) के अध्यक्ष के रामकृष्णन ने कहा कि आरबीआई ने इस बारे में उन्हें पत्र लिखा है और उम्मीद है कि जल्दी ही नई व्यवस्था लागू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक ने इस तरह के लेनदेन पर 10000 की सीमा तय करने पर सहमति जताई है। साथ ही इस तरह की लेन देन के अवसरों पर भी सीमा तय की गई है। एक महीने में सिर्फ पांच बार किया जा सकेगा।


आईबीए ने आरबीआई से पिछले माह अनुरोध किया था कि दूसरे बैंकों के एटीएम के इस्तेमाल पर कुछ सीमाएं रखी जाएं। आईबीए का कहना है कि इस तरह की सुविधा से उनका खर्च बढ़ रहा है। एक अप्रैल से आरबीआई ने तीसरे पक्ष द्वारा किसी और बैंक के एटीएम के उपयोग को शुल्क मुक्त कर दिया था जिसमें नकदी निकासी और खाते में पड़ी राशि की जानकारी लेना भी शामिल है। रिजर्व बैंक ने यह भी व्यवस्था दी थी कि बैंक तीसरे पक्ष की निकासी पर एक दूसरे से 18-20 रुपए कीवसूली कर सकते हैं।

अप्रैल के बाद तीसरे पक्ष पक्ष द्वारा लेनदेन बढ़ने के मददेनजर बैंकों ने आईबीए के जरिए रिजर्व बैंक से कहा कि मौजूदामानदंडों में फेरबदल करे और आवश्यक बदलाव लाए। आरबीआई के कार्यकारी निदेशक जी गोपालकृष्ण ने एक सम्मेलन के मौके पर कहा कि रिजर्व बैंक को आईबीए से इस मामले में कुछ सुझाव मिले हैं और केंद्रीय बैंक इसका आकलन कर रहा है। हालांकि आईबी ने तीसरे पक्ष द्वारा एटीएम निकासी की न्यूनतम सीमा 1000 रुपए तय की थी जिसे छोटे ग्राहकों के हित में रिजर्व बैंक ने खारिज कर दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दूसरे बैंक के एटीएम से निकाल सकेंगे दस हजार