DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एच1एन1 की जंग में निजी अस्पताल नहीं

शासन की ओर से जारी किए गए दिशा-निर्देशों में स्वाइन फ्लू से जंग में निजी अस्पतालों को शामिल नहीं किया गया है। स्वाइन फ्लू के मरीजों का सरकारी अस्पताल में ही इलाज किया जाएगा और सैम्पल लेने की व्यवस्था सिर्फ जिला अस्पताल के ही जिम्मे है।

नए दिशा-निर्देशों में निजी अस्पतालों में व्यवस्था को जगह नहीं दी गई है। तय है कि स्वाइन फ्लू से जंग में निजी अस्पतालों को शामिल करने की राज्य सरकार की कोई योजना नहीं है। हालांकि संभावना यह जताई जा रही थी कि नए दिशा-निर्देशों में निजी अस्पतालों को शामिल किया जाएगा और इनमें इलाज की व्यवस्था की जाएगी।

सेक्टर-11 स्थित मेट्रो मल्टीस्पेश्यिलिटी अस्पताल के प्रबंधक डॉ. अजय पुरंग ने बताया कि अस्पताल में स्वाइन फ्लू के रोजाना संदिग्ध मरीज आ रहे हैं। शासन की ओर से मरीजों के इलाज को लेकर किसी प्रकार के दिशा-निर्देश नहीं होने के कारण संदिग्ध मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा है। संदिग्ध मरीजों को सैम्पल के लिए जिला अस्पताल और फिर वहां से इलाज के लिए दिल्ली भेज दिया जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एच1एन1 की जंग में निजी अस्पताल नहीं