DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गहन चेकिंग के दौरान घटना, पुलिस को पता नहीं

बेखौफ बदमाशों ने पुलिसिंग व्यवस्था को चुनौती देते हुए एक वरिष्ठ पत्रकार को हथियारों के बल पर तीन घंटे से अधिक बंधक बना सड़कों पर कार में घुमाया और उससे करीब डेढ़ लाख रुपए लूट अधमरा कर सड़क पर छोड़ गए। घटना के बाद देर रात जब पुलिस को सूचित किया गया तो पता चला कि अधिकतर वरिष्ठ अधिकारी उस समय क्षेत्र में मौजूद नहीं हैं।

मामला मीडिया का होने के कारण आसानी से मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई है। मामले में एसएसपी को एटीएम में लगे सीसीटीवी के कुछ फुटेज मिले हैं, जिससे पुलिस का दावा है कि मामला जल्द सुलझा लिया जाएगा। बदमाशों ने घटना को उस समय अंजाम दिया, जिस वक्त गहन चेकिंग के आदेश थे।

घटना रात्रि करीब पौने ग्यारह बजे की है। नोएडा सेक्टर 11 स्थित सहारा टीवी में बिहार डेस्क पर तैनात शरद सांकेतिक ड्यूटी समाप्त कर प्राइवेट बस से ग्रेटर नोएडा के गामा सेक्टर पहुंचे और वहां से बाइक से लिफ्ट लेकर परी चौक पहुंच गये। चौक से वे घर की ओर चले ही थे कि इंडिका में आए चार लोगों ने उन्हें सड़क पर से अगवा कर लिया और उनके पास रखे रुपए लूट लिए। 

शरद के पास कैश अधिक नहीं था, नतीजतन वे लोग उसके डेबिट कार्ड को लेकर उसके साथ एटीएम पहुंचे और पहली बार में पचास हजार रुपए निकाल लिए। इसके बाद बदमाश उसे दूसरे एटीएम पर लेकर पहुंचे जहां से उन्होंने नौ हजार रुपए निकाले। इसके बाद बदमाश उसे सड़कों पर घुमाते रहे। रात बारह बजे के बाद तारीख बदलने पर बदमाश फिर पीटते हुए उसे वापस एटीएम पर ले गए जहां से फिर पचास हजार रुपए निकाले।

एटीएम से कार्ड का पूरा पैसा निकालने के बाद बदमाशों ने उसे फिर कार में बिठाया और उसका मोबाइल तोड़ उसे अधमरा कर प्रकाश अस्पताल के पास फेंक गए। पत्रकार ने जैसे तैसे पुलिस को मामले में सूचित करना चाहा, लेकिन पुलिस हेल्पलाइन नम्बर नहीं लगा। इसके बाद एसपी देहात सहित वरिष्ठ अधिकारियों को फोन पर सूचना दी तो पता चला ये अधिकारी अपने क्षेत्रों से बाहर हैं।

मामले की जानकारी जब चैनल के माध्यम से आईजी स्तर पर दी गई तब आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और आननफानन में चेकिंग शुरू की गई। प्रकरण में एसएसपी ने माना कि घटना बड़ी है, लेकिन मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि एटीएम के सीसीटीवी में बदमाशों के चेहरे मिले हैं, उससे उनकी पहचान की जा रही है। उन्होंने दावा किया कि जल्द ही मामले को सुलझा लिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पत्रकार को तीन घंटे बंधक बना डेढ़ लाख लूटे