DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एफएओ

एफएओ (फूड एंड एग्रीकल्चरल ऑर्गेनाइजेशन) एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है। यह कृषि उत्पादन, वानिकी, कृषि विपणन संबंधी शोध विषय का अध्ययन करता है। वह अधिकारियों के प्रशिक्षण की व्यवस्था करता है। विकासशील देशों में कृषि के विकास में इसका रोल महत्वपूर्ण है। यह संयुक्त राष्ट्र संघ की स्पेशलाइज्ड एजेंसी है। एफएओ ज्ञान और जानकारियों के आदान-प्रदान करने का मंच भी है। वह विकासशील देशों को बदलती तकनीक जैसे कृषि, पर्यावरण, पोषक तत्व और फूड सिक्योरिटी के बारे में जानकारी देता है।

इतिहास : एफएओ की स्थापना 16 अक्तूबर, 1945 को कनाडा में हुई थी। 1951 में इसका मुख्यालय वाशिंग्टन से रोम चला गया था। इसकी सदस्य राष्ट्र संख्या 191 हैं। एफएओ के पहले डाइरेक्टर जनरल ब्रिटेन के जॉन ओर थे। वर्तमान में इसके डाइरेक्टर सेनेगल के जैक्स डियोफ हैं।

कार्य और संरचना : एफएओ सदस्य देशों की कॉन्फ्रेंस द्वारा शासित किया जाता है। इसकी प्रत्येक दो वर्ष में बैठक होती है, जिसमें पिछले दो वर्ष के कार्यो की समीक्षा और आगामी दो वर्षो के लिए बजट पास किया जाता है। कॉन्फ्रेंस 49 लोगों का चयन करती है जो अंतरिम शासित बॉडी के रूप में कार्य करती है। कॉन्फ्रेंस में ही डाइरेक्टर जनरल का भी चुनाव होता है। सदस्यों का कार्यकाल तीन वर्ष का होता है। इसमें आठ विभाग हैं, प्रशासन एवं फाइनेंस, आर्थिक और सामाजिक, फिशरीज, फॉरेस्ट्री, जनरल अफेयर्स और इन्फॉरमेशन, सतत विकास, कृषि और उपभोक्ता सुरक्षा और टेक्निकल कोऑपरेशन हैं। एफएओ का रोजमर्रा बजट उसके सदस्यों द्वारा वहन किया जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एफएओ