DA Image
23 फरवरी, 2020|4:46|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांफ्रेंस में भाग लेंगे बिहार के किसान

दक्षिण एशियाई देशों के कांफ्रेंस में बिहार के 38 किसान भाग लेंगे। बंगलुरु में 10 और 11 सितम्बर को आयोजित होने वाले इस दो दिवसीय कांफ्रेंस में दक्षिण एशियाई देशों में जैविक खेती की स्थिति पर चर्चा होगी। सम्मेलन में भाग लेने के लिए किसानों के साथ राज्य सरकार के दो अधिकारी भी जाएगें।

विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सम्मेलन में भाग लेने के लिए जिन किसानों का चयन किया गया है, उनमें राजधानी पटना सहित पूर्णिया,सहरसा, मुंगेर, सुपौल और खगड़िया जिलों के किसान शामिल हैं। टाल-दियारा परियोजना के परियोजना पदाधिकारी सनत कुमार जयपुरियार ने बताया कि ये किसान सात नवम्बर को पटना से बंगलुरु के लिए रवाना होंगे। वहां वे दूसरे देशों में होने वाली जैविक खेती के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।

उल्लेखनीय है कि राज्य में पिछले दो वर्षो में जैविक खेती का प्रचलन बढ़ा है। सरकार ने भी इसके प्रोत्साहन के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं। समस्तीपुर जिले का कोठिया ग्राम राज्य के पहले जैविक ग्राम के रूप में अपनी पहचान बना चुका है। सरकार की मंशा है कि हर जिले में कम से कम दो ऐसे गांव हों जहां रासायनिक उर्वरकों की जगह सिर्फ जैविक खादों को उपयोग किसान करें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:कांफ्रेंस में भाग लेंगे बिहार के किसान