DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नशे का आदी था नया महादेव निवासी सत्यनारायण

काशी रेलवे स्टेशन पर गुरुवार की सुबह पंडा सत्य नारायण चौबे (45) ने ट्रेन से कटकर खुदकुशी कर ली। वह नया महादेव (आदमपुर) का निवासी था। जीआरपी ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सत्य नारायण काशी स्टेशन और पीलीकोठी बस स्टैंड पर बाहर से आने वाले यात्रियों को दर्शन-पूजन व कर्मकांड कराने का काम करता था। तीन भाइयों में वह दूसरे नम्बर का और दो बच्चों का पिता था।

बड़े भाई मृत्युंजय चौबे की भभुआ स्टेशन के पास चार साल पहले ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई थी। पंडागिरी के पेशे के साथ ही वह हेरोइन का आदी था। नशे के चलते परिवार की माली हालत बिगड़ गई थी। छोटा भाई अशोक ही परिवार की देखभाल करता रहा।

नशे की लत छुड़ाने के लिए छोटे भाई ने सत्यनारायण को पिछले दिनों अस्पताल में भर्ती कराया था जिससे उसकी हालत सुधारी थी लेकिन लत पूरी तरह नहीं छूटी थी। सुबह करीब 7.30 बजे कैंट से मुगलसराय जा रही गोमो पैसेंजर ट्रेन जैसे ही काशी स्टेशन के प्लेटफार्म तीन से गुजरी पहले से खड़ा सत्यनाराण उसके आगे कूद गया। खुदकुशी की सूचना पर भीड़ जुटी तो साथी पंडों ने उसे पहचाना। सूचना पर रोते-बिलखते परिजन पहुंचे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ट्रेन के आगे कूदकर पंडा ने की खुदकुशी