DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस, सपा की दीर्घकालिक दुश्मनः अमर सिंह

कांग्रेस, सपा की दीर्घकालिक दुश्मनः अमर सिंह

कांग्रेस को अपना र्दीघ्‍ाकालिक दुश्मन करार देते हुए समाजवादी पार्टी ने गुरुवार को कहा कि केन्द्र के सत्ताधारी दल के साथ उसी तरह का बर्ताव किया जाना चाहिए, जैसा वह निजी फायदों के लिए छोटे दलों के साथ करता है हालांकि पार्टी ने संप्रग से समर्थन वापसी के मुद्दे पर कोई टिप्पणी नहीं की।

सपा के राष्ट्रीय महासचिव अमर सिंह ने पार्टी के विशेष राष्ट्रीय सम्मेलन में कहा कि हमें इस बात को समझना होगा कि अंतिम :राजनीतिक: युद्ध कांग्रेस और सपा के बीच होगा। यह खामोश रहने वाला एक दुश्मन है और तल में छिपी पनडुब्बी या ड्रोन की तरह हमला करता है।

सिंगापुर के एक अस्पताल में गुर्दा प्रत्यारोपण करवाने के बाद स्वास्थ्य लाभ कर रहे अमर सिंह ने रिकार्ड किये गये एक संदेश में कहा कि कुछ लोगों का यह भी सुझाव था कि सपा को राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल से मिल कर कांग्रेस नीत संप्रग से समर्थन वापस ले लेना चाहिए।

अमर सिंह ने कहा, लेकिन :तणमूल कांग्रेस की नेता: ममता बनर्जी को देखिये। वह केन्द्रीय मंत्रिमंडल में हैं लेकिन वह सरकार पर हमले करती रहती हैं। उन्होंने मंत्रिमंडल को भूमि सुधार संबंधी एक फैसला मंजूर नहीं करने दिया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस्तेमाल करो और फेंको की नीति अपनाती है और परिस्थितियों का अधिक से अधिक लाभ लेने की कोशिश करती है। उन्होंने कहा, हमें कांग्रेस के साथ वैसा ही व्यवहार करना चाहिए, जैसा वह अन्य राजनीतिक दलों के साथ करती है। उन्होंने संकेत दिया कि सपा को संप्रग से तत्काल समर्थन वापस नहीं लेना चाहिए।

अमर सिंह ने कहा कि उन्होंने और पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने भले बने रहकर एक अपराध किया है। उन्होंने कहा, हमने कांग्रेस की बुरे वक्त में उस समय मदद की जब वाम दलों ने उससे समर्थन वापस ले लिया था और पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव उसके खिलाफ गये थे। हमने कुछ नहीं मांगा। इसके बावजूद हमारा इस्तेमाल किया गया और फेंक दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कांग्रेस, सपा की दीर्घकालिक दुश्मनः अमर सिंह