DA Image
21 जनवरी, 2020|8:11|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुस्तक पर प्रतिबंध लगाना दुर्भाग्यपूर्णः जसवंत

पुस्तक पर प्रतिबंध लगाना दुर्भाग्यपूर्णः जसवंत

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से निष्कासित वरिष्ठ नेता जसवंत सिंह ने सभी भाजपा शासित राज्यों में उनकी पुस्तक ‘जिन्ना-इण्डिया पार्टिशन इंडिपेंडेंस’ पर प्रतिबंध लगाए जाने को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है।

सिंह ने उनकी पुस्तक पर प्रतिबंध लगाए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि यह ऐसे ही है, जैसे प्रख्यात लेखक सलमान रूश्दी की पुस्तक पर प्रतिबंध लगाया गया था।

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में विचारों की अभिव्यक्ति की आजादी होनी चाहिए। एक लेखक अपनी लेखनी के माध्यम से ही अपने विचारों को अभिव्यक्त करता है। किसी पुस्तक पर प्रतिबंध लगाने का यही मायने है कि उसके सोचने पर रोक लगा दी जाए।

उल्लेखनीय है कि भाजपा की चिंतन बैठक के दौरान जसवंत की पुस्तक को भाजपा शासित राज्यों और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दलों द्वारा शासित राज्यों बिहार और पंजाब में भी प्रतिबंधित करने का आग्रह किया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:पुस्तक पर प्रतिबंध लगाना दुर्भाग्यपूर्णः जसवंत