DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जसवंत पर पार्टी की सख्ती, किताब पर प्रतिबंध

जसवंत पर पार्टी की सख्ती, किताब पर प्रतिबंध

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पार्टी से निष्कासित वरिष्ठ नेता जसवंत सिंह द्वारा पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना पर लिखी पुस्तक ‘जिन्ना : इण्डिया पार्टिशन इंडिपेंडेंस’ को भाजपा शासित राज्यों में प्रतिबंधित करने का निर्णय लिया है।

इस आशय का निर्णय पार्टी की तीन दिवसीय चिंतन बैठक में लिया गया। सूत्रों के अनुसार पार्टी ने सभी भाजपा शासित राज्यों गुजरात, कर्नाटक, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड की सरकारों से सिंह की पुस्तक की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी करने को कहा है।

सूत्रों ने बताया कि पार्टी ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दलों के सहयोग से बिहार और पंजाब में चल रही गठबंधन सरकारों से भी इस पुस्तक को प्रतिबंधित करने का आग्रह करने का निर्णय लिया है। सूत्रों ने बताया कि गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने राज्य में इस पुस्तक पर प्रतिबंध लगाने के आदेश दे दिए हैं।

सूत्रों ने बताया कि बाकी भाजपा शासित राज्यों में भी इस पुस्तक पर प्रतिबंध लगाने की औपचारिकताएं शीघ्र पूरी कर ली जाएंगी। गौरतलब है कि जिन्ना की प्रशंसा और देश के बंटवारे के लिए पंडित जवाहर लाल नेहरू और सरदार बल्लभ भाई पटेल को जिम्मेदार ठहराए जाने पर भाजपा संसदीय बोर्ड ने सिंह को पार्टी से निष्कासित कर दिया था।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) ने जसवंत सिंह की इस पुस्तक को उसकी विचारधारा के खिलाफ करार दिया था और समझा जाता है कि भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह कोे जसवंत सिंह के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। भाजपा चिंतन बैठक शुरू होने से ठीक पहले पार्टी के संसदीय बोर्ड की आपात बैठक हुई थी, जिसमें वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी भी मौजूद थे। बैठक में जसवंत सिंह को पार्टी से निष्कासित करने का निर्णय लिया गया था।


उधर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से निष्कासित किए गए पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह गुरुवार सुबह यहां से दिल्ली के लिए रवाना हो गए। ओबरॉय समूह के होटल सेसिल के एक अधिकारी ने बताया कि जसवंत सिंह गुरुवार सुबह सड़क मार्ग से दिल्ली रवाना हो गए। वह मंगलवार दोपहर शिमला पहुंचे थे।

जसवंत सिंह बुधवार को शुरू हुई भाजपा की तीन दिन की चिंतन बैठक में हिस्सा लेने यहां आए थे, लेकिन उन्हें इसमें हिस्सा न लेने के लिए कहा गया और उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि हमने जसवंत सिंह के लिए अतिथि गृह में ठहरने की इंतजाम किया था। परंतु अंतिम समय पर पता चला कि उन्होंने कहीं बाहर अपने लिए कमरा बुक करवा लिया है।

जसवंत सिंह ने अपनी पुस्तक ‘जिन्ना : इंडिया-पार्टिशन-इंडीपेंडेस’ के कारण पार्टी को नाराज कर दिया था। इस पुस्तक का सोमवार को नई दिल्ली में विमोचन हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जसवंत पर पार्टी की सख्ती, किताब पर प्रतिबंध