DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गन्ने के बकाया को लेकर आक्रोशित हैं किसान

गन्ना किसानों का पेराई सत्र 2007-08 का बकाया चुकता नहीं कर पायी चीनी मिलों को आगामी पेराई सत्र में किसानों की नाराजगी का शिकार होना पड़ सकता है। इसी भुगतान के कारण बीते पेराई सत्र में जिले की उत्तम चीनी को भारी नुकसान उठाना पड़ा था। किसान संगठन इस बाबत फिर से रणनीति तय करने में जुट गये हैं।

किसानों का कहना है कि जो भी चीनी मिल सबसे पहले उनका बकाया सबसे पहले चुकता करेगी किसान उसी को गन्ने की आपूर्ति करेंगे। सूखे से गन्ने के उत्पादन में आंकी जा रही कमी के कारण आगामी पेराई सत्र में भी गन्ने की प्राइसवार होना तय माना जा रहा है।

चीनी मिलों के प्रबंध तंत्र अभी से गन्ने की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिये योजनाएं तैयार करने में जुट गये हैं। वहीं कोल्हू चर्खिया करने वाले ठेकेदार भी किसानों के पास जाकर गन्ने का दाम तय करने की तैयारी कर रहे हैं, ताकि उन्हे सीजन के अंत तक गन्ने की कमी न झेलनी पड़े।

बताया गया है कि यह ठेकेदार गत वर्ष के मूल्य से इस बार उससे कहीं ज्यादा मूल्य पर गन्ने के दाम बेशक गत वर्ष से उछल रहे हो, लेकिन चीनी मिलों पर पेराई सत्र 2007-08 की बकाया राशि को लेकर किसान चिंतित हैं। किसान संगठनों के अनुसार जिले की तीनों चीनी मिल पर इस सत्र का तकरीबन 9 करोड़ से ज्यादा का भुगतान अभी बकाया है। गत वर्ष इस बकाया भुगतान को लेकर काफी हो-हल्ला मचा था।

यहां तक की उत्तम चीनी मिल को आरसी भी जारी कर दी गयी थी और इस चीनी मिल के आधा दर्जन से ज्यादा गन्ना खरीद केन्द्र अन्य चीनी मिलों को आवंटित कर दिये गये थे। चीनी मिल को हो रहे इस नुकसान को देखते हुये मिल मालिक ने कुछ राशि के चेक जिलाधिकारी को सौंपे थे, तब कहीं जाकर मिल में गन्ना आपूर्ति के हालात सुधरे थे। चीनी मिल प्रबंधन शायद यही सोच रहे होंगे कि किसान इस राशि को भूल चुके होंगे लेकिन किसान इस राशि को भूले से भी नही भूला पा रहे हैं।

दहियाकी के किसान सुरेन्द्र सिंह का कहना है कि चाहें जो भी जब तक चीनी मिल किसानों का पुराना भुगतान नही करेगी तब तक किसानों की नाराजगी चीनी मिलों के प्रति बनी रहेगी। किसान नेता संजय चौधरी का कहना है कि जो भी चीनी मिल इस बकाया राशि को ब्याज सहित किसानों को सबसे पहले देगी, किसान उसी चीनी मिल को गन्ने की आपूर्ति करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गन्ने के बकाया को लेकर आक्रोशित हैं किसान