DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उ.प्र. में बाढ़ से सैकड़ों गांव प्रभावित

उत्तर प्रदेश में पिछले कई दिनों से हो रही बारिश के कारण प्रमुख नदियों का जलस्तर बढ़ने से प्रदेश के सैकड़ों गांव बाढ़ से प्रभावित हो गए हैं तथा लखीमपुर खीरी में बाढ़ के कारण एक बच्चे समेत दो लोगों की मृत्यु होने की सूचना है।


 आधिकारिक सूत्रों के अनुसार बनवसा बांध से छोड़े गए पानी के कारण बहराइच जिले में घाघरा नदी खतरे के निशान से उपर बह रही है। घाघरा नदी के उफान के कारण बहराइच जिले के करीब 186 गांव बाढ़ से प्रभावित हो गए हैं। घाघरा नदी के कटान के कारण छह गांव पूरी तरह नदी में समा गए हैं। जिला प्रशासन ने निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर चले जाने के लिए कहा है।


 लखीमपुर खीरी से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार उत्तराखंड के बनवसा बांध से तीन लाख 58 हजार क्यूसेक पानी छोड़े जाने से पलिया कस्बे में बाढ़ का पानी घुस गया है। पानी में डूबने से एक बच्चे समेत दो लोगों की मृत्यु हो गई। बाढ़ के कारण पलियागौरीफंटा मार्ग पर यातायात बंद हो जाने से घनगढी, नेपाल का आवागमन भी बंद हो गया है। बाढ़ से मैलानी, गोण्डा रेल लाइन पर पानी भरने के कारण रेल यातायात बंद कर दिया गया है।

 लखीमपुर खीरी में शारदा नदी खतरे के निशान से 31 सें.मी. उपर बह रही है। जिले की चार तहसीलों के 65 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं जिसमें पलिया तहसील के 20 गांवों में बाढ़ की स्थिति बेहद खराब है। बचाव एवं राहत के लिए 48 नावें लगाई गई हैं। पीएसी के जवान बचाव एवं राहत कार्यों में जिला प्रशासन की मदद कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उ.प्र. में बाढ़ से सैकड़ों गांव प्रभावित