DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुशर्रफ पर केस दर्ज नहीं करने पर पुलिस को लताड़

मुशर्रफ पर केस दर्ज नहीं करने पर पुलिस को लताड़

पाकिस्तान की एक अदालत ने बुधवार को पुलिस से पूछा है कि उसने पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ के खिलाफ वर्ष 2007 के आपातकाल के दौरान जजों की अवैध धरपकड़ के लिए आपराधिक मामला दर्ज करने से क्यों इनकार कर दिया। इससे करीब एक हफ्ते पहले पूर्व सैन्य शासक के खिलाफ इस्लामाबाद पुलिस ने इसी मामले में केस दर्ज किया है।

अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने इस्लामपुरा पुलिस थाने के प्रमुख को एक नोटिस जारी कर पूछा है कि उन्होंने अधिवक्ता सैयद अजहर अली शाह की मुशर्रफ के खिलाफ शिकायत दर्ज करने से इनकार क्यों कर दिया। अदालत ने जवाब देने के लिए थाना प्रमुख को दो सितंबर तक का वक्त दिया है।

शाह द्वारा याचिका दायर करने के बाद अदालत ने यह नोटिस जारी किया है। याचिका में न्यायाधीश से पुलिस को मुशर्रफ के खिलाफ मामला दर्ज करने का निर्देश देने की अपील की गयी है। अपनी याचिका में शाह ने दावा किया है कि आपातकाल के दौरान मुशर्रफ ने अवैध आदेश जारी कर पूरे देश में न्यायाधीशों और अधिवक्ताओं की धरपकड़ करने को कहा था। उन्होंने कहा है कि कानून लागू करने वाली एजेंसियां गैरकानूनी रूप से अदालतों और न्यायाधीशों के आवास में प्रवेश कर गयी। जबरन उन्हें गिरफ्तार किया गया तथा अधिवक्ताओं पर लाठी चार्ज किया गया।

शाह ने आरोप लगाया है कि मुशर्रफ ने अवैध रूप से न्यायाधीशों को हिरासत में रखा। इनमें पाकिस्तान के उच्चतम न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश इफ्तिखार चौधरी भी शामिल थे। इस दौरान कुछ अधिवक्ताओं को घातक चोटें भी आयी थी। शिकायत में कहा गया है इसलिए पाकिस्तान दंड संहिता की धाराओं के तहत मुशर्रफ के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए।  शाह ने कहा कि इस्लामपुरा पुलिस थाने के प्रमुख ने मुशर्रफ के खिलाफ मामला दर्ज करने से साफ इनकार कर दिया।

इस्लामाबाद पुलिस ने आपातकाल के दौरान साठ न्यायाधीशों को अवैध रूप से हिरासत में रखने के आरोप में मुशर्रफ के खिलाफ इस महीने की 11 तारीख को एक आपराधिक मामला दर्ज किया था। स्थानीय अदालत के आदेश के बाद यह मामला दर्ज किया गया था।

पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में देश में मुशर्रफ द्वारा लगाए गए आपातकाल को असंवैधानिक और अवैध करार दिया था । इससे देशद्रोह के आरोप में उनके खिलाफ मुकदमा चलाने की संभावना पैदा हो गयी है। पाकिस्तान के राष्ट्रपति के पद से एक साल पहले इस्तीफा देने वाले पूर्व सैन्य शासक मुशर्रफ अभी लंदन में हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुशर्रफ पर केस दर्ज नहीं करने पर पुलिस को लताड़