अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उड़ीसा : पहले चरण की चुनावी अधिसूचना जारी

उड़ीसा में विधानसभा की 70 और लोकसभा की 10 सीटों के लिए 16 अप्रैल को होने वाले पहले चरण के चुनावों के लिए सोमवार को अधिसूचना जारी हो गई लेकिन सभी बड़ी पार्टियों ने अभी तक राय में अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है। राय में लोकसभा की 21 और विधानसभा की 147 सीटें हैं। इस बार राय में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ हो रहे हैं और कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी, भाजपा तथा बीजू जनता दल (बीजद) के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होने की संभावना है क्योंकि भाजपा बीजद गठबंधन टूट गया है। कांग्रेस और भाजपा ने लोकसभा तथा विधानसभा चुनाव अपने दम पर अलग अलग लड़ने का फैसला है मगर भाजपा से 11 वर्ष पुराना गठबंधन तोड़ने वाली पार्टी बीजद, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा), माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) तथा झारखंड मुक्ित मोर्चा (झामुमो) के साथ सीटों का बंटवारा करेगी। बीजद सूत्रों ने दावा किया है कि दोनों वाम पार्टियों तथा तथा राकांपा के साथ सीटों के बंटवारे को अगले कुछ दिनों में मंजूरी दे दी जाएगी तथा लोकसभा एवं विधानसभा प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर दी जाएगी। पार्टी पहले ही वाम दलों और राकांपा के साथ कम से कम दो दौर की बातचीत कर चुकी है और पार्टी प्रमुख नवीन पटनायक की अंतिम सहमति का इंतजार कर रही है। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि राय चुनाव समिति ने पहले ही केन्द्रीय चुनाव समिति को संभावित प्रत्याशियों की सूची सौंप दी है जिसने इसे अंतिम रुप दे दिया है किसी भी समय दिल्ली से इसे जारी किया जा सकता है। राय भाजपा इकाई को भी उम्मीद है कि उम्मीदवारों के नामों की घोषणा जल्द ही हो सकती है। उधर हाल ही में अस्तित्व में आई क्षेत्रीय-समृद्ध उड़ीसा पार्टी ने विधान सभा की सभी 147 और लोकसभा की 21 सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: उड़ीसा: पहले चरण की चुनावी अधिसूचना जारी