DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोचिंग संचालक रेलकर्मी की हत्या के बाद लखीसराय स्टेशन परिसर में उपद्रव

कोचिंग संचालक रेलकर्मी की हत्या के बाद लखीसराय स्टेशन परिसर में उपद्रव

किऊल रेल थाना क्षेत्र के लखीसराय स्टेशन परिसर के फुटपाथ पर मंगलवार की सुबह अपराधियों ने शहर की गौशाला गली निवासी कोचिंग के संचालक रेलकर्मी सुधीर सक्सेना की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय नागरिक और छात्र उग्र हो गए तथा लखीसराय स्टेशन पर जमकर तोड़फोड़ की और पार्सल कार्यालय तथा 718 डाउन गया- किऊल पैसेन्जर ट्रेन की एक बोगी में आग लगा दी । स्टेशन परिसर दो घंटों तक रणक्षेत्र में तब्दील रहा।

भीड़  ने पुलिस व स्टेशन परिसर पर जमकर रोड़ेबाजी भी की जिसमें एक पुलिसकर्मी घायल हो गया। जीआरपी ने स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए 12 चक्र हवाई फायरिंग भी की तथा नौ लोगों को हिरासत में लिया है।
मृतक की पत्नी रूना देवी ने न्यू परामाउण्ट फिजिक्स कोचिंग सेन्टर के संचालक मनीष शंकर सहित चार अज्ञात के खिलाफ नगर थाना में मामला दर्ज कराया है। इधर स्टेशन परिसर में हुई तोड़ फोड़ और आगजनी के मामले में लखीसराय के बुकिंग पर्यवेक्षक एस. के. यादव ने किऊल जीआरपी में 25 अज्ञात उपद्रवियों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी है।

सुधीर सक्सेना हाथिदह में सिगनल इंटरलॉकिंग मेन्टेनर के पद पर कार्यरत थे। मंगलवार की सुबह वह डयूटी समाप्त कर अपने घर लौट रहे थे कि लखीसराय स्टेशन के दक्षिणी भाग में फुटपाथ पर घात लगाए अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। घटना की खबर शहर में आग की तरह फैल गयी और देखते ही देखते नागरिकों की भीड़ घटनास्थल पर जमा हो गयी।

आक्रोशित नागरिकों एवं छात्रों ने लखीसराय स्टेशन परिसर के बुकिंग कार्यालय एवं आरक्षण कार्यालय में लगे कम्प्यूटर सेट, अन्य सामग्री एवं कागजात को क्षतिग्रस्त कर दिया ओर बुकिंग काउन्टर से रुपये भी लूट लिये। उपद्रवियों ने पूछताछ कार्यालय , बीआईपी रूम, प्रथम श्रेणी प्रतीक्षालय, पश्चिमी केबिन एवं अप प्लेटफार्म पर बने एसटीडी बूथ में भी जमकर तोड़ फोड़ की।

तोड़ फोड़ के समय स्टेशन पर तैनात जीआरपी के जवान मूकदर्शक बने रहे और उपद्रवियों ने आजादी के साथ घटना को अंजाम दिया। घटना के डेढ़ घंटे बाद पहुंचे किऊल जीआरपी के थानाध्यक्ष एवं पुलिस बल को उपद्रवियों के सामने काफी मशक्कत करनी पड़ी। पुलिस द्वारा हवाई फायरिंग किए जाने के बाद भी उपद्रवी पुलिस पर हावी रहे।
पुलिस अधीक्षक विवेकराज सिंह ने घटना के संबंध में बताया कि हत्या का कारण कोचिंग संचालन की प्रतिद्वंदिता है। उन्होंने कहा कि हत्यारों की शिनाख्त की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लखीसराय स्टेशन परिसर में उपद्रव