DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस नेता ने जिन्ना की तारीफ में लिखी किताब जलाई

उत्तर प्रदेश कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता प्रमोद तिवारी ने मंगलवार को यहाँ जिन्ना की तारीफ में लिखी किताब की प्रति जलाई। उन्होंने कहा कि ऐसी किताब को वह अपने घर में रखना या पढ़ना नहीं चाहते जिसमें नेहरू और सरदार पटेल जैसे नेताओं के बारे में आपत्तिजनक बातें कही गई हों।

श्री तिवारी ने कहा कि भाजपा अगर अपने नेता जसवंत सिंह के जिन्ना संबंधी मत से सहमत नहीं हैं तो उन्हें पार्टी से बाहर निकाले। तिवारी ने अपने आवास पर प्रेस वार्ता बुलाई थी। मीडिया के सामने ही उन्होंने किताब में आग लगा दी। श्री तिवारी ने कहा कि श्री सिंह ने अपनी किताब ‘जिन्ना: भारत विभाजन के आइने में’ पं. जवाहर लाल नेहरू और सरदार बल्लभ भाई पटेल पर जो आरोप लगाए हैं, इसके लिए इतिहास उन्हें कभी माफ नहीं करेगा।

श्री तिवारी ने कहा कि श्री सिंह की किताब में की गई ऐतिहासिक भूल से उनकी पार्टी भाजपा कभी सहमत नहीं दिखती। उन्होंने कहा कि यदि उनकी पार्टी वास्तव में श्री सिंह के मत से सहमत नहीं है तो उन्हें पार्टी से बाहर क्यों नहीं निकाल देती? श्री सिंह ने कभी माफ नहीं किया जाने वाला अपराध किया है। इसके लिए उन्हें सार्वजनिक रूप से माफी भी माँगनी चाहिए।

सिंह जैसे नेता जिन्ना की याद में कसीदें लिखते हैं। भाजपा में एक वर्ग जिन्ना का विरोध भी करता है। फिर वही भाजपा आडवाणी को प्रधानमंत्री पद के लिए प्रोजेक्ट भी करती है। यह भाजपा का दोहरा चरित्र है जिससे देश को सावधान रहने की जरूरत है। श्री तिवारी से पूछा गया कि किताब जला कर विरोध करने से जसवंत सिंह को प्रचार ही मिलेगा। जवाब में श्री तिवारी ने कहा कि उन्हें इतिहास को गलत ढंग से प्रचारित करने का अधिकार नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कांग्रेस नेता ने जिन्ना की तारीफ में लिखी किताब जलाई